बस खाई में गिरने से 12 यात्रियों की मौत, 25 से ज्यादा घायल

0
260

मुम्बई। महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में शनिवार सुबह दर्दनाक हादसा हो गया। मुंबई-पुणे ओल्ड हाईवे पर खोपोली इलाके में शिंगरोबा मंदिर के पीछे एक निजी बस खाई में गिर गई। इस हादसे में बस में सवार 12 यात्रियों की मौत हो गई, जबकि 25 से ज्यादा यात्री घायल हो गए। हादसे की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने मौके पर रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया। पुलिस घायलों को बस से निकालने का प्रयास कर रही है। वहीं स्थानीय लोग भी रेस्क्यू ऑपरेशन में पुलिस की मदद कर रहे हैं। रायगढ़ जिले के एसपी सोमनाथ घारगे ने बताया कि बस में 40 से 45 यात्री सवार थे, जिसमें से 12 यात्रियों की मौत हो गई है, जबकि 25 से ज्यादा यात्री घायल हैं। रेस्क्यू ऑपरेशन अब भी चल रहा है. बस को निकालने के लिए क्रेन को बुलाया गया है। बस में गोरेगांव इलाके की एक संस्था से जुड़े लोग सवार थे। ये सभी पुणे में एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए गए थे। पुणे से वापस लौटते समय इनकी बस दुर्घटनाग्रस्त हो गई। एसपी सोमनाथ घारगे के मुताबिक, बस लगभग 200 फीट गहरी खाई में गिरी है। अभी हादसे की वजह स्पष्ट नहीं है कि ड्राइवर की लापरवाही से दुर्घटना हुई या अन्य कोई वजह हो सकती है, उसकी जांच की जाएगी। एसपी ने बताया कि घायलों को रेस्क्यू कर पास के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है। इनमें से जिनकी हालत गंभीर है, उन्हें जिला अस्पताल भेजा जा रहा है। वहीं राहत और बचाव कार्य में लगे लोगों के मुताबिक, अभी तक 20 से 25 लोगों को ही रेस्क्यू किया गया है। क्रेन में रस्सी बांधकर रेस्क्यू किया जा रहा है। गहरी खाई में बस गिरने से रेस्क्यू में दिक्कत हो रही है. पुलिस और फायर ब्रिगेड की टीम के साथ स्थानीय ट्रैकर्स की एक टीम रेस्क्यू में लगी है। स्थानीय लोगों ने बताया कि बस जब खाई में गिरी तो तेज आवाज आई। आवाज सुनकर लगा कि कोई हादसा हुआ है। जब मौके पर पहुंचकर देखा गया तो बस दिखाई नहीं दे रही थी, क्योंकि 200 फीट गहरी खाई में गिरी थी। हम लोगों ने इसकी सूचना स्थानीय थाने को दी। थाने की टीम जब मौके पर पहुंची तो नीचे उतर कर देखा गया. बस में लोग चीख-पुकार मचा रहे थे। आनन-फानन में बस के शीशे तोड़कर कुछ लोगों को निकाला गया और अस्पताल में भर्ती कराया गया। जानकारी मिल रही है कि बस में सवार लोग गोरेगांव के एक म्यूजिक ग्रुप से जुड़े हुए थे, जो गोरेगांव सायन विरार इलाके में रहते थे। सीएम एकनाथ शिंदे ने हादसे पर दुख जताया। साथ ही मृतकों के परिवारजनों को पांच लाख रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि घायलों का सरकारी अस्पताल में फ्री में इलाज किया जाए। उनके परिजनों से किसी प्रकार का चार्ज न लिया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here