गुंडों और माफिया का राज उत्तर प्रदेश में खत्म हो गया है : अलका

0
293


लखनऊ । अतीक अहमद का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि अब मुख्तार अंसारी खबरों में छाया हुआ है। शनिवार को गैंगस्टर केस में गाजीपुर की एमपी/एमएलए कोर्ट ने उसे दोषी पाया। साथ ही 10 साल की सजा सुनाई। जिस पर अब दिवंगत बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय की पत्नी अलका राय का बयान सामने आया है। अलका ने कहा कि मैं न्यायपालिका में विश्वास करती हूं। गुंडों और माफिया का राज उत्तर प्रदेश में खत्म हो गया है। अलका ने मुख्तार को सजा दिलाने के लिए काफी लंबी कानूनी लड़ाई लड़ी है। आपको बता दें कि मुख्तार का नाम बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय और नंदकिशोर रूंगटा की हत्या में आया था। इसके बाद 2007 में गैंगस्टर एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ। जिसमें मुख्तार, उसके भाई अफजाल और बहनोई एजाजुल हक का नाम था। हालांकि एजाजुल की मौत हो चुकी है। वैसे तो मुख्तार को नियम के मुताबिक कोर्ट में पेश होना था, लेकिन सुरक्षा कारणों से वो जेल में ही रहा। वहां से उसकी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेशी करवाई गई। कोर्ट ने मुख्तार को 10 साल की सजा सुनाते हुए उस पर 5 लाख का जुर्माना भी ठोका।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here