एसटीएफ ने किया एक लाख के ईनामी घोडासन गैंग के मुखिया को गिरफ्तार

0
259

देहरादून। एसटीएफ ने चार साल से फरार घोडासन गिरोह के मुखिया व एक लाख के ईनामी राजूदास को शिरडी महाराष्ट्र से गिरफ्तार कर लिया है।
आज यहां इसकी जानकारी देते हुए एसटीएफ एसएसपी आयुष अग्रवाल ने बताया कि पिछले एक माह से एसटीएफ घोडासन गैंग व चादर गैंग के सदस्यों पर योजना बनाकर कार्य किया जा रहा था। उन्होंने बताया कि घोडासन गैंग के कई सदस्य काफी समय से वांछित चल रहे हैं। इस गैंग ने उत्तराखण्ड सहित विभिन्न राज्यों में कई बडे मोबाईल, लैपटॉप के ब्रान्डेड शोरूमों से चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया है। यह गिरोह पूरे भारत में अपराधिक घटनाओं को अंजाम देता है। उन्होंने बताया कि यह गिरोह ब्रान्डेड कम्पनियों के मोबाईल व लैपटॉप चोरी कर उनको नेपाल में जाकर बेच देते हैं जिससे वह सर्विलान्स से ट्रैक नहीं हो पाते हैं। इस गिरोह के लोगों का एक जगह ठिकाना नहीं रहता है जिस कारण से इनको आसानी से गिरफ्तार नहीे किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि 2018 में इस गिरोह ने हरिद्वार के ज्वालापुर में एप्पल के शोरूम से लगभग चालीस लाख का सामान चोरी किया था। इस गिरोह का सरगना राजूदास उर्फ राजू पुत्र मुसाफिर निवासी घोडासन जिला चंपारण बिहार जिसपर एक लाख रूपये का ईनाम घोषित किया गया था पिछले चार साल से थाना ज्वालापुर में दर्ज मुकदमें में वांछित चल रहा था। उन्होंने बताया कि एसटीएफ को सूचना मिली कि राजूदास महाराष्ट्र में किसी बडी घटना को अंजाम देने के लिए अपने गिरोह के साथ गया हुआ है। जिसके बाद 21 दिसम्बर को एसटीएफ की एक टीम को शिरडी महाराष्ट्र भेजा गया। एसटीएफ की टीम ने राजूदास के सम्भावित ठिकानों पर दबिश देकर राजूदास को गिरफ्तार कर लिया। जिसने बताया कि उसके गिरोह के छह अन्य सदस्य भी शिरडी में हैं जिसके बाद एसटीएफ ने इसकी जानकारी शिरडी पुलिस को दी और शिरडी पुलिस ने राजूदास के छह अन्य सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया। आज राजूदास को हरिद्वार न्यायालय में पेश किया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here