मंदिर—मस्जिद और दरगाह भी जाएंगे और अटल की समाधि स्थल भी जाएंगे राहुलः कांग्रेस

0
59

दिल्ली पहुंची राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा—बदरपुर बॉर्डर में भव्य स्वागत


नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा आज अपने पहले लंबे विश्राम स्थल दिल्ली पहुंच गई है। जहां प्रवेश द्वार बदरपुर बॉर्डर मे उनकी यात्रा का भव्य स्वागत किया गया। दिल्ली में कुछ दिन विश्राम के बाद उनकी यह यात्रा जनवरी के पहले सप्ताह में फिर शुरू होगी।
कांग्रेस का कहना है कि राहुल गांधी की इस भारत जोड़ो यात्रा को लेकर भाजपा के नेताओं द्वारा जो सवाल उठाए जा रहे हैं वह उनकी गौरव लहर है। राहुल गांधी हजरत निजामुद्दीन औलिया की दरगाह भी जाएंगे, मंदिर भी जाएंगे और मस्जिद भी जाएंगे तथा पूर्व स्वर्गीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई के समाधि स्थल भी जाएंगे और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के समाधि स्थल भी जाएंगे। भारत को तोड़ने वाले और भारतीय समाज को जाति धर्म के आधार पर बांटने वाले क्या समझ सकते हैं कि भारत जोड़ो यात्रा का मतलब क्या है।
केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर द्वारा राहुल गांधी की इस यात्रा को भारत जोड़ो यात्रा नहीं परिवार जोड़ो यात्रा बताकर उनका उपहास उड़ाया गया था जिसके जवाब में काग्रेस नेताओं ने यह जवाब दिया है। कांग्रेसी नेता जयराम नरेश का कहना है कि मैं अनुराग जैसे लोगों को बस यही कहना चाहता हूं कि गोली मारो को छोड़े, भारत को जोड़ो की राजनीति करें उन्होंने कहा कि कांग्रेस की यह यात्रा लोकतंत्र का राम है बांटने और तोड़ने का नहीं। इसलिए यह भाजपा नेताओं को समझ में नहीं आएगी। उन्होंने कहा कि अब कोरोना को लेकर भाजपा कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा को रोकना चाहती है यह भाजपा की बौखलाहट है। 70 दिन लंबी यह यात्रा आज 6000 किलोमीटर का सफर कर दिल्ली पहुंची है। जिसमें हजारों की संख्या में सभी जाति धर्म के लोग उनके साथ हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here