किशन चंद की संपत्ति कुर्क करने की तैयारी

0
147

देहरादून। आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने और करोड़ों के भ्रष्टाचार के मामले के आरोपी निलंबित आईएफएस किशनचंद को ढूंढने में नाकाम रही विजिलेंस की टीम अब उनकी संपत्ति कुर्क करने की तैयारी कर रही है।
डायरेक्टर विजिलेंस अमित सिन्हा का कहना है कि आरोपी आईएफएस किशनचंद को अपना पक्ष रखने के लिए आने को कई बार कहा जा चुका है लेकिन वह अभी तक विजिलेंस के सामने पेश नहीं हुए हैं। इस मामले की जांच कर रही टीम द्वारा उनकी तलाश में उनके संबंधित यूपी, उत्तराखंड और दिल्ली के कई ठिकानों पर तलाश की गई लेकिन वह नहीं मिल रहे हैं ऐसे में उनके खिलाफ अब आगे की वैधानिक कार्यवाही की जाएगी।
उन्होंने कहा कि मैं अभी भी उनके करीबियों व परिजनों को यही कहूंगा कि वह विजिलेंस कार्यालय आकर उन्हें अपना पक्ष रखने को कहें लेकिन ऐसा नहीं होने पर उनकी संपत्तियों को कुर्क करने की कार्रवाई की जाएगी। उल्लेखनीय है कि उनकी तलाश में विजिलेंस टीम यूपी के मेरठ तथा उत्तराखंड के हरिद्वार और दिल्ली सहित कई जगह छापेमारी कर चुकी है अदालत से उनके गैर जमानती वारंट भी जारी हो चुके हैं। जिस पर स्टे के बाद अब एनबीडब्ल्यू हो चुका है।
निलंबित आईएएस किशनचंद पर करोड़ों के भ्रष्टाचार का आरोप है। टाइगर सफारी योजना में उनके द्वारा व्यापक स्तर पर अनियमितताएं करने के आरोप हैं। देखना यह है कि किशनचंद कब तक कानून की गिरफ्त से बाहर रह पाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here