एक लाख का ईनामी बदमाश गिरफ्तार, खुद को कर चुका था मृत घोषित

0
539

देहरादून। एसटीएफ ने पुलिस कर्मियों पर फायर कर भागे मुकिम काला गिरोह के शातिर एक लाख रूपए के ईनामी बदमाश को बिहार से गिरफ्तार किया। पूर्व में यह बदमाश अपने आपको मृत घोषित कर चुका था। इसकी पत्नी ने गंगनहर थाने में इसके आत्महत्या करने की रिपोर्ट दर्ज करायी थी।
आज यहां वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल ने पकड़े गये एक लाख के ईनामी अपराधी के बारे में जानकारी देते हुये बताया कि 16 अक्टूबर 22 को जनपद हरिद्वार के क्षेत्र थाना लक्सर की चीता पुलिस के जवानो को सूचना प्राप्त हुई कि कुछ बदमाश लक्सर कस्बे के एक सुनार को लूट के ईरादे से आये हुये है और वे संदिग्ध व्यक्ति दुर्गा मन्दिर ओवर ब्रिज लक्सर के नीचे घूम रहे है। सूचना पर चीता पुलिस के दो जवान सुरेन्द्र शर्मा व पंचम को लक्सर वालावाली पुल के नीचे एक मोटर साईकिल में सवार तीन संदिग्ध व्यक्तियों को देखकर उन्हें रोककर पूछताछ करने लगे तो वो अचानक चीता पुलिस पर फायर करते हुये भागने लगे, मुठभेड़ के दौरान एक बदमाश को कांस्टेबल सुरेन्द्र शर्मा ने दबोच लिया था किन्तु उसके अन्य साथियों द्वारा फिर चीता पुलिस पर कई राउण्ड फायर कर दिये। इस मुठभेड में दो सिपाही घायल हुए थे। इस घटना में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के 5 बदमाशों की पहचान शाबिर, अताउल खान, नौशाद, जावेद व फुरकान के रूप में हुई। जिनमें से नौशाद, अताउलखान व शाबिर को गिरफ्तार किया जा चुका था। मुख्य अपराधी फुरकान एवं जावेद घटना के बाद से फरार चल रहे थे। इसमें फुरकान बहुत ही शातिर बदमाश है जिस पर एक लाख रूपये का ईनाम घोषित किया गया था। एसटीएफ विगत 10 दिन पूर्व बिहार के भागलपुर जनपद में सूचना एकत्रित करने पहुॅची जिस पर टीम द्वारा उसके सम्भावित ठिकानो की जानकारी की गई व गोपनीय तरीके से बिहार व झारखण्ड के बार्डर के पीरपैंती कस्बे में ठिकानो की निगरानी की गई लगातार 8 दिनो तक निगरानी की गयी। उक्त घर को रात के समय घेर कर दबिश दी गई तो फुरकान भागने लगा लेकिन पुलिस टीम द्वारा उसका पीछा कर पकड लिया गया। जिसे 2 जुलाई 2023 को न्यायिक मजिस्ट्रेट भागलपुर के समक्ष पेश कर 6 दिवस की ट्रान्जिट रिमान्ड लिया गया। बताया जा रहा है कि इस शातिर अपराधी फुरकान द्वारा पुलिस की गिरफ्तारी से बचने के लिये अपने आप को गंगनहर कलियर के पास अपने कपडे व मोबाईल रखकर अपने रिश्तेदारों को अपने डूबकर आत्महत्या करने की बात कहने की सूचना दी गई। जिससे पुलिस उसे मरा हुआ समझकर उसका पीछा करना छोड दे। इस पर इस बदमाश की पत्नी द्वारा गंगनहर थाने में जाकर अपने पति फुरकान की आत्महत्या की सूचना भी दी गयी थीं, लेकिन एसटीएफ ने तस्दीक कर लिया था इस बदमाश ने पुलिस को चकमा देने की नियत से ये प्लान बनाया गया है। उन्होेंने बताया कि फुरकान कुख्यात मुकीम काला गिरोह का सव्रिQय सदस्य है तथा इसपर डेढ दर्जन से अधिक मुकदमें दर्ज हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here