तुर्की और सीरिया में भूकंप से 500 से ज़्यादा लोगों की मौत

0
280


तुर्की सरकार ने देश में आपातकाल लगाने की घोषणा की


नई दिल्ली। दक्षिण-पूर्वी तुर्की में स्थानीय समयानुसार सुबह 04:17 बजे आए 7.8 तीव्रता के भूकंप ने जमकर तबाही मचाई है। अब तक 300 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। साथ ही कई इमारतों को भी नुकसान पहुंचा है। तुर्की सरकार ने देश में आपातकाल लगाने की घोषणा की है। वहीं, सीरिया में भी भूंकप से भयंकर तबाही मची है। यहां अब तक 237 लोगों के मारे जाने की खबर है। दोनों ही देशों में भारी संख्या में इमारतों को नुकसान पहुंचा है। भूकंप से मरने वालों की संख्या और बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। तुर्की समेत लेबनान, सीरिया, साइप्रस, इसराइल और फ़लस्तीन में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। भूकंप के बात राष्ट्रपति अर्दोआन ने देश में आपातकाल लागू कर दिया है। राहत और बचाव कार्य तेज़ी से किया जा रहा है। भूकंप के बाद तुर्की ने अंतरराष्ट्रीय सहायता की अपील की है। अधिकारियों के अनुसार तुर्की और सीरिया में अब तक 500 से अधिक लोगों की मौत की ख़बर है। तुर्की में अब तक मरने वालों का आंकड़ा 284 हो गया है। वहीं सीरिया में अब तक 237 लोगों की मौत की ख़बर है।
तुर्की और सीरिया में आए भूकंप का कहर सैकड़ों पर टूटा। सीरिया के अलेप्पो, लटाकिया, हामा और टार्टस में भूकंप के कारण भीषण तबाही की ख़बर है। अलेप्पो में बड़ी संख्या में इमारतों के गिरने की भी ख़बरें हैं। यूके स्थित सीरियाई ऑब्ज़रवेटरी फ़ॉर ह्यूमन राइट्स ने कहा है कि सीरिया में भूकंप 320 से लोगों की जान गई है। सरियाई राष्ट्रपति बशर अल-असद ने सोमवार सवेरे इस मुद्दे पर आपातकालीन बैठक की है।
घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दुख जाहिर किया है। उन्होंने कहा कि भारत, तुर्की के साथ खड़ा है। साथ ही हर संभव मदद का भरोसा दिया है। पीएम मोदी ने बेंगलुरु में कहा, ‘इस समय तुर्की में आए भूकंप पर हम सभी की दृष्टि बनी हुई है। कई लोगों की मृत्यु और काफी नुकसान की खबरें हैं। तुर्की के आसपास के देशों में भी नुकसान की आशंका है। भारत भूकंप पीड़ितों की हर संभव मदद के लिए तत्पर हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here