इस साल सारे रिकॉर्ड तोड़ेगी चारधाम यात्राः धामी

0
449

आने वाले दिनों में और बेहतर होगी कनेक्टिविटी
महाराज ने बताई हरिद्वार में अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे की जरूरत

देहरादून। इस साल चारधाम यात्रा में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद है। दो साल से कोरोना के चलते प्रभावित रही चारधाम यात्रा के कारण राज्य के पर्यटन को भारी नुकसान पहुंचा है लेकिन इस साल चारधाम यात्रा पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ देगी। यह बात आज राजधानी दून में आयोजित टूरिज्म एंव हास्पैलिटी कॉन्फ्रेंस में मुख्य अतिथि के तौर पर बोलते हुए सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कही।
मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि इस साल चारधाम यात्रा पर इतने श्रद्धालु आएंगे कि पिछले सारे रिकॉर्ड टूट जाएंगे। उन्होंने कहा कि चारधाम यात्रा प्रदेश के लोगों की रोजी—रोटी से जुड़ी है, बीते दो सालों में कोरोना के कारण यात्रा के प्रभावित रहने से सरकार के पर्यटन विभाग और कारोबारियों को बड़ा नुकसान हुआ है। साथ ही उन्होंने कहा कि यात्रा को सफल बनाने के लिए सबके साथ और सबके सहयोग की जरूरत है। उन्होंने कहा कि हमें सबका साथ, सबका विकास और सबके विश्वास के साथ आगे बढ़ना है।
उन्होंने कहा कि अब राज्य में जन सुविधाओं का तेजी से विकास हो रहा है अच्छी सड़कें है, अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं हैं। आने वाले समय में इनमें और भी अधिक सुधार देखने को मिलेगा। उन्होंने कहा कि एलिवेटेड एक्सप्रेसवे बनने के बाद दिल्ली से देहरादून का सफर दो घंटे में हो सकेगा और लोगों को हवाई जहाज से भी कम समय में दून से दिल्ली पहुंचना संभव हो जाएगा। यही नहीं चारधाम ऑल वेदर रोड और ऋषिकेश कर्णप्रयाग रेलवे लाइन के बनने के बाद तो पर्यटकों को और आसानी होने वाली है। उन्होंने कहा कि आने वाला दशक उत्तराखंड के विकास का दशक रहने वाला है। इससे राज्य के पर्यटन को सबसे अधिक फायदा पहुंचेगा तथा पहाड़ी व्यंजनों का प्रचार प्रसार बढ़ेगा
इस अवसर पर बोलते हुए पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि कोराना के खत्म होने के बाद श्रद्धालुओं में भारी उत्साह देखा जा रहा है। सारे होटल और हेली सेवाओं की बुकिंग अभी से फुल हो चुकी है। साथ ही उन्होंने कहा कि पर्यटन के विकास के लिए अभी बहुत सारे काम करने होंगे उन्होंने सड़कों को और अधिक बेहतर बनाने तथा हरिद्वार में अंतरराष्ट्रीय स्तर का हवाई अड्डा बनाने की जरूरत बताई। इस कार्यक्रम का आयोजन पर्यटन विभाग द्वारा किया गया था। कार्यक्रम का आयोजन धर्मपुर क्षेत्र के एक होटल में किया गया था जिसमें मौजूद धर्मपुर विधायक विनोद चमोली ने कहा कि बीते साल 35 लाख श्रद्धालु चार धाम यात्रा पर आए थे लेकिन इस साल एक करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं के आने की संभावना है। उन्होंने कहा कि हमें पर्यटकों के साथ अतिथि देवो भवः की संस्कृति के अनुरूप ही व्यवहार करना चाहिए जिससे लोग राज्य की अच्छी छवि लेकर वापस जाएं। कार्यक्रम में पर्यटन कारोबारियों ने भी भाग लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here