कोरोना को लेकर देश में हाई अलर्ट

0
115

फिर लौटा मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग का दौर

बूस्टर डोज के कैंप शुरू करने के निर्देश
जिलों के कंट्रोल रूम फिर लगे काम पर
जल्द घोषित की जाएगी नई एसओपी

नई दिल्ली/देहरादून। सावधान! कोरोना फिर लौट आया है वह भी अब तक सबसे घातक वैरीयंट वी एफ—7 के साथ। चीन में हुए कोरोना विस्फोट के बाद जिस तेजी से कोरोना का यह वेरियंट अमेरिका, फ्रांस, ब्रिटेन और भारत तक पहुंचा है उसे लेकर देश की राजधानी दिल्ली से लेकर तमाम राज्यों की सरकारें अलर्ट मोड में आ गई हैं। पीएम मोदी ने आज इस पर हाई लेवल मीटिंग की है तो यूपी और उत्तराखंड सहित तमाम राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने अपने राज्यों में इससे निपटने पर चिंतन—मंथन शुरू कर दिया है।
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आज अधिकारियों की बैठक बुलाकर तमाम सुरक्षा उपायों पर विचार विमर्श किया इस बैठक में निर्णय लिया गया है कि कल से ही सभी जिलों के उन कंट्रोल रूम को एक्टिव कर दिया जाए जो कोरोना की दूसरी लहर से काम कर रहे हैं। वही बूस्टर डोज लगाने के लिए भी कैंप लगाने के निर्देश सभी जिलों को दिए गए हैं। जिन लोगों ने पहले बूस्टर डोज नहीं ली है अब उनकी बूस्टर डोज लगाने का काम जल्द शुरू किया जाए। इसके अलावा जिन लोगों की जांच पॉजिटिव आती है उनकी सीक्वेंसिंग कराने का फैसला भी लिया गया है।
बैठक में स्वास्थ्य मंत्री धन सिंह रावत ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए भाग लिया। उनका कहना है कि संभावित खतरे के मद्देनजर राज्य के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जल्द ही नए एसओपी जारी की जाएगी। उनका कहना है कि अभी फिलहाल राज्य में कोरोना की स्थिति बिल्कुल सामान्य है। अभी राज्य में कोरोना की गाइडलाइन को लेकर किसी तरह की कोई सख्ती नहीं है लेकिन लोगों को जागरूक होने की जरूरत है। अभी राज्य में 60 के आसपास सक्रिय मरीज हैं। उनका कहना है कि लोग भीड़ भाड़ वाली जगहों में जाने से बचें तथा मास्क और सैनिटाइजिंग को अपनाएं। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि कई राज्यों में चीन तथा अन्य देशों से आने वाले यात्रियों के लिए टेस्टिंग की व्यवस्था को अनिवार्य किया जा चुका है।
देश की संसद में मास्क को अनिवार्य कर दिया गया है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस समस्या पर हाई लेवल मीटिंग करने जा रहे हैं। उधर दिल्ली एम्स द्वारा जारी नई एसओपी में लोगों को भीड़ भाड़ वाली जगहों व समारोह से बचने और मास्क तथा सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने व सैनिटाइजिंग का ध्यान रखने की राय दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here