टिहरी में कई मकानों पर गिरा मलवा, मवेशी दबे

0
238


राज्य में 28 अगस्त तक जारी रहेगा मानसूनी कहर

देहरादून। राजधानी देहरादून सहित पूरे उत्तराखंड में आफत की बारिश का दौर जारी है। राज्य के सभी चार धाम मार्ग जगह—जगह भूस्खलन व भू—धसावं के कारण बंद है जहां हजारों यात्री फंसे हुए हैं। वही बीती रात टिहरी में भारी बारिश से हुए भूस्खलन की चपेट में चार—पांच घरों के आने से स्थानीय लोग भयभीत है हालांकि यहां किसी जनहानि की बात सामने नहीं है कुछ मवेशियों के दबे होने की खबर है। बचाव राहत टीम मौके पर भेजी गई है राज्य की 297 सड़केे बंद होने के कारण लोगों को आवागमन में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
मौसम विभाग द्वारा अब राज्य में 28 जुलाई तक भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। राजधानी दून से लेकर उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग तथा चमोली तक बीती रात से झमाझम बारिश हो रही है। वही पौड़ी, टिहरी और बागेश्वर में भी भारी बारिश होने की खबरें हैं तथा नैनीताल में भी मौसम का मिजाज फिर बदल चुका है और बारिश के कारण लोग घरों में कैद होकर रह गए हैं।
टिहरी से आ रही खबरों के मुताबिक यहंा बीती रात से भारी बारिश हो रही है आज सुबह घनसाली और कोटा गांव में हुए भारी भूस्खलन की खबरें हैं। पहाड़ से आए मलबे के कारण 5—6 घरों को भारी खतरा पैदा हो गया है मलबे में किसी तरह की जनहानि की बात सामने नहीं आई है जबकि मलबे में 4—6 मवेशियों के दबे होने की संभावना है बचाव व राहत के लिए एसडीआरएफ की टीम को मौके पर भेजा गया है तथा समाचार लिखे जाने तक यहां रेस्क्यू का काम जारी था। उधर दो—तीन दिन पहले हुए भूस्खलन के कारण बंद हुए बदरीनाथ हाईवे को अभी तक नहीं खोला जा सका है वहीं आज जोगधारा में भारी भूस्खलन की चपेट में आई जेसीबी के क्षतिग्रस्त होने की खबर है हालांकि इस दुर्घटना में ड्राइवर बाल—बाल बच गया। वही गंगोत्री राजमार्ग मलबा आने के कारण बंद है तथा यमुनोत्री हाईवे पर अभी डाबरकोट में मलवा आना जारी है जिसके कारण मार्ग बंद है। उत्तरकाशी के पुरोला में 4 दिन पहले भारी बारिश के कारण हुई तबाही के कारण अभी भी कई भवनों पर संकट मंडरा रहा है। पौड़ी में आज 4 घंटे हुई बारिश के कारण जनजीवन प्रभावित होने की खबरें हैं वही बागेश्वर में भारी बारिश के कारण नदियों का बढ़ता जलस्तर लोगों को डरा रहा है प्रशासन मुनादी कर नदी किनारे बसे लोगों के घर खाली करा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here