मुख्य सचिव ने लिया केदार पुरी की व्यवस्थाओं का जायजा

0
467

अधिकारियों को दिए जरूरी काम निपटाने के निर्देश

देहरादून। भले ही राज्य में चारधाम यात्रा का आगाज कल 3 मई अक्षय तृतीया पर गंगोत्री व यमुनोत्री धामों के कपाट खुलने के साथ हो चुका हो लेकिन यात्रा की मुख्य शुरुआत 6 मई को केदारनाथ मंदिर के कपाट खुलने पर ही होगी, यही कारण है कि शासन प्रशासन का पूरा फोकस केदारपुरी में चल रही यात्रा की तैयारियों पर ही है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के बाद आज मुख्य सचिव एसएस संधू ने केदारपुरी जाकर तैयारियों का जायजा लिया तथा अधिकारियों को कल तक जरूरी काम निपटाने के निर्देश दिए। क्योंकि 6 मई को केदारनाथ मंदिर के कपाट खुलने जा रहे हैं।
मुख्य सचिव एसएस संधू आज केदारपुरी में चल रही यात्रा तैयारियों और निर्माण कार्यों का जायजा लेने धाम पहुंचे। इस अवसर पर उनके साथ मौजूद अधिकारियों को उन्होंने मंदिर तक पहुंचने वाले रास्ते और यात्रियों के लिए बनाए जा रहे अस्थाई आवासों सहित पेयजल, शौचालय तथा प्रकाश व्यवस्था आदि का निरीक्षण किया। उन्हें जहां भी किसी तरह की कमी नजर आई उन्होंने अधिकारियों को दुरुस्त करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कल तक सभी व्यवस्थाओं को दुरुस्त कर लिया जाए।
उल्लेखनीय है कि केदारनाथ धाम में सबसे अधिक संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं। इस सीजन में भी सबसे अधिक संख्या में केदारनाथ जाने वाले श्रद्धालुओं का रजिस्ट्रेशन हो चुका है। धाम की व्यवस्थाओं को चाक—चौबंद इसलिए भी बनाए जाने पर अधिक फोकस है क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भी केदारनाथ धाम पहुंचने की संभावनाएं हैं। यहां यात्रियों के ठहरने कि अभी भी समुचित व्यवस्था नहीं है उनके लिए अस्थाई टेंट लगाए गए हैं जिनमें 6 हजार यात्री ठहर सकते हैं। आपदा के बाद से लगातार केदारपूरी के नव निर्माण का काम जारी है जिसकी निगरानी खुद पीएम मोदी कर रहे हैं, यही कारण है कि केदारपुरी की व्यवस्थाओं पर राज्य सरकार भी सबसे अधिक फोकस कर रही है अभी सीएम धामी भी यहां चल रहे कार्यों का निरीक्षण करने गए। केदारपुरी को भव्य व दिव्य बनाने में बड़ी संख्या में लोग लगे हैं तथा सरकार का दावा है कि इस बार भी चार धाम यात्रा ऐतिहासिक होगी जिसके लिए बड़ी तैयारियों की भी जरूरत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here