परिवहन निगम में सुधार को लगातार काम जारीः रामदास

0
121

अक्टूबर में 200 नई बसें आएंगी
बस अड्डों को बनाया जाएगा आधुनिक

देहरादून। उत्तराखंड की वर्तमान सरकार राज्य परिवहन निगम की स्थिति में सुधार के लिए लगातार काम कर रही है जिसके नतीजे थोड़े समय बाद धरातल पर भी दिखने लगेंगे। बहुत जल्द परिवहन की सूरत बदली हुई नजर आएगी।
ऐसा कहना है परिवहन और समाज कल्याण मंत्री चंदन राम दास का। परिवहन मंत्री ने ट्टदून वैली मेल’ के साथ हुई बातचीत में बताया कि निगम को घोटालों से उबारने और रोडवेज के बेहतर संचालन की चुनौतियों के बीच उन्होंने यह जिम्मेदारी संभाली थी। उनका कहना है कि सरकार राज्य में बस अड्डों की स्थिति को सुधारने और उनके आधुनिकीकरण पर काम कर रही है। टनकपुर, हल्द्वानी, काठगोदाम और हरिद्वार तथा रूद्रपुर बस अड्डों को अत्याधुनिक बनाया जाएगा। इस पर बहुत जल्द काम शुरू किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि उत्तराखंड परिवहन निगम की जो देनदारी उत्तर प्रदेश सरकार पर थी उसका 100 करोड़ रूपया उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा निगम को दे दिया गया है। वही एडीबी से राज्य परिवहन निगम को 300 करोड़ रूपया मिला है जिससे 200 नई बसें खरीदी जाएंगी। उन्होंने बताया कि दिल्ली में 1 अक्टूबर से बी एस 4 वाहनों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। उत्तराखंड से दिल्ली के लिए लगभग ढाई सौ बसों का संचालन किया जा रहा है ऐसी स्थिति में राज्य के निगम को नई और अत्याधुनिक बसों की जरूरत है। उन्होंने कहा इसी माह अक्टूबर में 200 नई बसें निगम में आ जाएंगी। उन्होंने बताया कि निगम 150 इलेक्ट्रिक बसें तथा 30 सीएनजी बसें व 20 साधारण बसें खरीदने जा रहा है। जिनके आने के बाद राज्य के परिवहन बेड़े में बसों की न सिर्फ कमी को दूर किया जा सकेगा बल्कि यात्रियों को बेहतर सुविधा भी मिल सकेगी। उत्तराखंड परिवहन निगम के पास वर्तमान में लगभग 1271 बसें हैं नई बसों के आने पर इनकी संख्या 15 सौ से अधिक हो जाएगी।
उनका कहना है कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में चलने वाली वर्तमान भाजपा सरकार का पूरा सहयोग उन्हें मिल रहा है। उन्होंने कहा कि निगम में 50 साल की उम्र पूरी कर चुके कर्मचारियों को स्वैच्छिक सेवानिवृत्त देने पर विचार किया जा रहा है जो कर्मचारी सेवानिवृत्ति लेना चाहेंगे उन्हें एकमुश्त भुगतान कर नई नियुक्तियां की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here