केन्द्र सरकार किसानों के नहीं अडानी के साथ: दूबे

0
78

देहरादून। केन्द्र भाजपा सरकार द्वारा जहंा देश में किसानों की आय को पांच साल में दोगुना करने की बात कही गयी थी, वहीं किसानो की आय तो दो गुनी नहीं हुई अलबत्ता भाजपा शासनकाल में विश्व में अडानी दुसरे नम्बर के धनी व्यक्ति जरूर हो गये है।
कांग्रेस भवन में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान यह बात आज कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता अभय दूबे द्वारा कही गयी। उन्होने कहा कि कोरोना काल के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा था कि आपदा में अवसर तलाशने होगें लेकिन आपदा में यह अवसर तो उन्होने अपने उघोगपति मित्र अडानी को ही दिये है। जो अडानी समूह विश्व भर में 609वें स्थान पर थे वह भाजपा के सत्ता में आने पर विश्व में दूसरे नम्बर पर आ गये है। उन्होने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि आपदा में केन्द्र सरकार द्वारा किसानों के खिलाफ एक के बाद एक काले कानून लाये गये जिनका किसानों द्वारा विरोध किया गया। लेकिन उस दौरान अडानी की कम्पनियों की ग्रोथ जरूर बढ़ गयी। उन्होने केन्द्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि अमृतकाल के दौरान सरकार ने देश के 12 करोड़ लोगों के रोजगार के अवसर छीन लिए गये, 84 प्रतिशत लोगों की आमदनी घट गयी, देश में दस प्रतिशत लोगों का देश के 60 प्रतिशत संसाधनों पर कब्जा हो गया।
उन्होने हिडंनबर्ग की रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि देश के कई सरकारी बैंको व एलआईसी से केन्द्र सरकार के निर्देश पर अडानी गु्रप की कम्पनियों पर निवेश किया गया है। यही नहीं उन्होने कहा कि जो चीनी कम्पनियंा भारतीय खुफिया ऐजेसिंयों की रडार पर है उन्होने तक केन्द्र सरकार के निर्देश पर अडानी गु्रप की कम्पनियों पर पैसा लगाया हुआ है।
उन्होने कहा कि केन्द्र सरकार इस सबके बावजूद इस मामले की जांच को तैयार नही है। उन्होने मांग की है कि केन्द्र सरकार इस मामले की जांच सूप्रीम कोर्ट के चीफ जज की निगरानी में कराये। पत्रकार वार्ता के दौरान उपाध्यक्ष संगठन मथुरा दत्त जोशी, महामंत्री याकूब सिद्दकी, अमरजीत सिंह, महेन्द्र सिंह नेगी ट्टगुरूजी’ प्रदेश प्रवक्ता शीशपाल बिष्ट, प्रदेश प्रवक्ता राजेश चमोली उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here