अग्निवीर योजना के तहत भाजपा ने किया युवाओं के साथ धोखाः डॉवर

0
75

देहरादून। मोदी सरकार ने अग्निपथ योजना के जरिए उन 1.5 लाख युवाओं के सपनों को चकनाचूर कर दिया है। जिन्हे नियमित भर्ती के तहत कठिन मानसिक व शारीरिक परीक्षण के बाद सैन्य बलों में भर्ती होना था। अग्निवीर योजना के तहत भाजपा ने करोड़ो युवाओं को धोखा दिया है।
प्रदेश कांगे्रस मुख्यालय में पे्रस को संबोधित करते हुए यह बात आज अखिल भारतीय कांगे्रस के सचिव प्रवीन डॉवर द्वारा कही गयी। उन्होने कहा कि बेरोजगारी 45 साल के उच्चतम स्तर पर है। साथ ही बताया कि 31 जनवरी को राहुल गांधी ने उनके लिए न्याय सुनिश्चित करने के लिए जय जवान अभियान शुरू किया गया है। जो बिहार में राहुल गांधी द्वारा शुरू किए गए एक राष्ट्रव्यापी अभियान ट्टजय जवान’ अन्याय के विरुद्ध न्याय का युद्ध के माध्यम से युवाओं के लिए न्याय सुनिश्चित करेगी। यह अभियान 1.5 लाख युवाओं की दुर्दशा पर प्रकाश डालता है, जिन्हें कठोर चयन प्रक्रिया से गुजरने के बाद 2019 और 2022 के बीच एक नियमित भर्ती अभियान में हमारी 3 गौरवशाली सैन्य बलों भारतीय सेना, भारतीय नौसेना और भारतीय वायु सेना में स्वीकार किया गया था, लेकिन उन्हें सारी प्रक्रियाओं के बाद भी भर्ती से वंचित कर दिया गया, क्योंकि मोदी सरकार ने अचानक सशस्त्र बलों पर अग्निपथ योजना थोप दी।
उन्होने कहा कि जय जवान अभियान की दो महत्वपूर्ण मांगें हैं जिनमें अग्निपथ योजना लागू होने पर 1.5 लाख युवाओं से क्रूरतापूर्वक छीनी गई नौकरियां वापस करने की बात है वहीं सैन्य बलों के लिए पिछली भर्ती प्रणाली को बहाल करायी जाये। उन्होने बताया कि राष्ट्रव्यापी जय जवान अभियान 3 चरणों में आयोजित किया जा रहा है और 31 जनवरी से शुरू हुआ यह अभियान 20 मार्च तक चलेगा। उन्होने कहा कि इस जय जवान अभियान का लक्ष्य 31 लाख परिवारों तक पहुंचना है। जिसकी समय अवधि 1 फरवरी से 28 फरवरी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here