अब टोकन सिस्टम से होंगे बाबा की दर्शन

0
252

लाइनों में लगने का झंझट खत्म
रिकॉर्ड 3 लाख 33 हजार लोग पहुंचे धाम

रुद्रप्रयाग। केदारनाथ धाम में खराब मौसम के बीच भी श्रद्धालुओं की अपार भीड़ उमड़ रही है जिसके कारण श्रद्धालुओं को घंटो—घंटो लंबी कतारों में खड़े होकर इंतजार करना पड़ रहा है और सर्दी से उनका स्वास्थ्य बिगड़ रहा है वहीं उन्हें भीड़ के रहने में ठीक से दर्शन भी नहीं हो पा रहे हैं। जिसके मद्देनजर अब केदारधाम में दर्शनों की व्यवस्था में बदलाव किया गया है। धाम जाने वाले सभी श्रद्धालुओं को अब टोकन सिस्टम से दर्शन कराए जा रहे हैं।
जिला अधिकारी का कहना है कि श्रद्धालुओं को हो रही परेशानी के मद्देनजर यह बदलाव किया गया है जिसके अनुसार सभी श्रद्धालुओं को टोकन दिया जा रहा है जिसमें समय भी निर्धारित किया गया है। उनका कहना है कि अब दर्शनों के लिए कई लाइनें नहीं होगी सबके लिए सिर्फ एक ही लाइन होगी और समय भी तय होगा। उल्लेखनीय है कि केदारधाम में अब तक 40 के आसपास श्रद्धालुओं की मौतें हो चुकी है तथा धाम में क्षमता से अधिक श्रद्धालुओं के पहुंचने के कारण जहां दर्शनों के लिए मारामारी की स्थिति पहले ही दिन से बनी हुई है वहीं धाम में यात्री सुविधाएं भी चरमरा गई है।
उल्लेखनीय है कि खराब मौसम के बीच भी केदारनाथ में रिकॉर्ड श्रद्धालु पहुंचे हैं अब तक 10 लाख के आसपास श्रद्धालु चारों धामों में पहुंचे हैं जिसमें सबसे अधिक 3 लाख 33 हजार श्रद्धालु केदारधाम पहुंचे हैं। बद्रीनाथ धाम पहुंचने वाले श्रद्धालुओं की संख्या पौने तीन लाख के आसपास बताई गई है जबकि गंगोत्री व यमुनोत्री धाम जाने वाले यात्रियों की संख्या अभी 2—2 लाख से नीचे बताई जा रही है। केदारधाम में खराब मौसम के कारण गड़बड़ाई व्यवस्था को सुधारने के मद्देनजर 20 मई तक रजिस्ट्रेशन पर रोक लगाई हुई है लेकिन पहले से ही रजिस्ट्रेशन करा चुके श्रद्धालुओं का आना जारी है। सरकार ने पहले यात्रियों की संख्या सीमित रखने की घोषणा की थी जिसे बाद में वापस ले लिया था जिससे धाम में अधिक यात्री पहुंच रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here