यूपी निकाय व नगर पंचायत चुनाव में भाजपा के लिए सब चंगा ही चंगा

0
335

महापौर की 17 में से 16 सीटों पर भाजपा का कब्जा
नगर पंचायत व नगर पालिकाओं में भी नंबर वन पर
सपा व बसपा पिछड़ी, कांग्रेस का डिब्बा गोल

लखनऊ। निकाय और नगर पंचायत चुनाव के देर शाम तक मिले नतीजे बताते हैं कि छोटी सरकार पर भाजपा अपनी मजबूत पकड़ बनाए रखने में कामयाब रही है। समाचार लिखे जाने तक भाजपा ने 17 महापौर की सीटों में से 16 सीटें और नगर पालिकाओं की 199 सीटों में से 89 सीटों पर तथा नगर पंचायत की 544 सीटों में से 151 सीटें या तो जीत ली गई थी या फिर बढ़त बनाए हुए थी। समाचार लिखे जाने तक मतगणना जारी थी। मतगणना के समय एक जगह मामूली विवाद व पुलिस लाठीचार्ज की खबरें आई है।
भाजपा ने छोटी सरकार के लिए होने वाले इस अहम चुनाव को पूरी गंभीरता से लिया था। सीएम योगी आदित्यनाथ ने खुद इस चुनाव की बागडोर संभाल रखी थी तथा उनके द्वारा एक—एक दिन में 3 से 4 तक जनसभा की गई। उन्होंने इस चुनाव में प्रदेश की कानून व्यवस्था में किए गए सुधार तथा बदमाश और माफिया के खिलाफ की गई कार्रवाई को अहम चुनावी मुद्दा बनाया था। उन्होंने अपनी हर जनसभा में न कर्फ्यू न दंगा अब यूपी में सब चंगा ही चंगा का नारा दिया और आवश्यक रूप से दोहराया। निसंदेह लोगों ने भाजपा को कानून व्यवस्था के इस मुद्दे को ही पसंद किया जिसके कारण महापौर की 17 में से 16 सीटें जीतने में भाजपा सफल हो सकी जबकि एक सीट पर बसपा बढ़त बनाए हुए हैं। सपा का स्कोर शुन्य ही रहा है। वही नगर पालिका अध्यक्ष की 199 सीटों में से भाजपा 90 सीटें जीतकर पहले स्थान पर है जबकि सपा को 36 व बसपा के खाते में 3 सीटें जाती दिख रही हैं नगर पंचायत अध्यक्ष की 544 सीटों में से समाचार लिखे जाने तक 420 का चुनाव परिणाम आ चुका था जिसमें से भाजपा को 151 सीटों पर सपा को 88 व बसपा को 32 सीटें मिल चुकी थी। योगी का कहना है कि अब ट्रिपल इंजन सरकार बनने से विकास की गति और तेज होगी 2024 में भाजपा इस जीत को कितना भुना पाती है? यह समय ही बताएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here