आधुनिक आत्मनिर्भर भारत बनाने को तीव्र विकास जरूरी: मोदी

0
639

प्रशिक्षु अधिकारियों को दी कठिन लक्ष्य तय करने की सलाह

नई दिल्ली/देहरादून। आधुनिक और आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए तीव्र विकास जरूरी है यह बात आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल बहादुर प्रशासनिक अकादमी मसूरी में आयोजित कामन फाउंडेशन कोर्स के समापन समारोह को वर्चुअली संबोधित करते हुए कही।
प्रधानमंत्री ने नई दिल्ली से विभिन्न 16 सेवाओं के 488 प्रशिक्षु अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि वैश्विक स्तर पर स्थितियां व परिस्थितियां तेजी से बदल रही हैं। उन्होंने अपनी सरकार के गति शक्ति प्रोग्राम का उदाहरण देते हुए कहा कि आने वाला समय तीव्र गति से विकास का समय है, अगर हम आधुनिक और आत्मनिर्भर भारत बनाना चाहते हैं तो उसके लिए तीव्र गति से विकास जरूरी है।
प्रधानमंत्री ने प्रशिक्षु अधिकारियों से कहा कि आप अगर आसान टारगेट चुनते हैं तो वह न आपके लिए अच्छा हो सकता है न देश के लिए। चुनौतीपूर्ण लक्ष्य तय करें तभी आपका नाम होगा और समाज के विकास का काम होगा। उन्होंने कहा कि आने वाले 25 साल आपके लिए बहुत महत्व के हैं इस समय आप बड़ा बदलाव देखेंगे। आप में से सभी देश के 4 सौ से अधिक जिलों में कदम रखने वाले हैं आपके फैसले और हौसले यह तय करेंगे कि आप भारत को कितना श्रेष्ठ बना पाए। उन्होंने कहा कि ऐसे लक्ष्य निर्धारित करें जिनका लाभ देश के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति तक पहुंच सके।
प्रधानमंत्री ने पीएम आवास योजना का उदाहरण देते हुए कहा कि आजादी के 75 साल बाद भी जिन लोगों के पास घर नहीं थे उन्हें घर देने का फैसला आसान नहीं था लेकिन अब आसान लगता है। उन्होंने कहा कि फाइलों के आंकड़ों में नंबर वन होना जरूरी नहीं है, विकास की सोच जरूरी है। उन्होंने कहा कि आपका कर्तव्य बोध आपके द्वारा तय किए जाने वाले लक्ष्य और उन्हें पूरा करने की लगन ही आपके नंबर बनाती है। उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि आप सभी एक भारत और श्रेष्ठ भारत निर्माण के लिए समर्पित भाव से काम करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी ने इससे पूर्व आज खेल भवन का उद्घाटन भी किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here