देश के लिए काला अध्याय था आपातकालः अग्रवाल

0
407

ऋषिकेश। बैराज रोड स्थित कैंप कार्यालय पर विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने विभिन्न जनप्रतिनिधि एवं कार्यकर्ताओं के साथ संगोष्ठी में कहा है कि आज के ही दिन तत्कालीन प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी के कहने पर देश में आपातकाल की घोषणा की गई थी।
अग्रवाल ने विभिन्न जनप्रतिनिधियों एवं कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा है कि यह देश के लिए काला अध्याय था। ऐसे में राष्ट्रवादी विचारधारा वाले लोगों को जेल में ठूंस दिया गया था। लोकतंत्र की हत्या कर दी गई थी। समाचार पत्रों का प्रकाशन सरकार के दिशानिर्देशों में होने लगा जो भी व्यत्तिQ अथवा संस्था तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के विरोध करने वालों को जेल में बंद कर दिया जाता था।
अग्रवाल ने कहा है कि संपूर्ण देश में आपातकाल के खिलाफ आंदोलन खड़ा हुआ और दो लाख से अधिक लोगों को जेल में डाला गया और यातनाएं दी गई। अग्रवाल ने अपने बाल्यकाल के संस्करणों को याद करते हुए कहा है कि उनका परिवार प्रारंभ से ही संघ विचारधारा से जुड़ा रहा और उनके परिवार को भी आपातकाल के समय अनेक यातनाएं दी गई। अग्रवाल ने कहा है कि वर्तमान समय में देश लोकतंत्र के मर्यादाओं के आधार पर चल रहा है। हर व्यत्तिQ को अपनी बात कहने का अधिकार है जिसे अभिव्यत्तिQ की स्वतंत्रता कहा गया है। उन्होंने कहा है कि वह ऐसा कालखंड था जब इंदिरा गांधी के राजनीतिक विरोधियों को हर प्रकार से प्रताड़ित किया जाता था।
इस अवसर पर वरिष्ठ पार्षद शिव कुमार गौतम, पार्षद वीरेंद्र रमोला, क्षेत्र पंचायत सदस्य अमर खत्री, मनोज ध्यानी, सुमित पवार अरुण बडोनी, कविता शाह, आदि सहित अनेक लोग उपस्थित थे कार्यक्रम का संचालन राजेश थपलियाल ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here