दिग्गज अभिनेत्री जमुना गुरु का लंबी बीमारी के बाद निधन

0
338


नई दिल्ली। तेलुगु फिल्म इंडस्ट्री के सुनहरे दौर की दिग्गज अभिनेत्री जमुना गुरु ने शुक्रवार, 27 जनवरी को आखिरी सांस ली। लंबी बीमारी से जूझ रहीं एक्ट्रेस ने 86 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह दिया। फिल्म इंडस्ट्री की तमाम हस्तियों ने उनके परिवार वालों के प्रति गंभीर संवेदना व्यक्त की है। एक्ट्रेस के पार्थिव शरीर को सार्वजनिक श्रद्धांजलि के लिए फिल्म चैंबर ले जाने की तैयारी की जा रही है। उनका अंतिम संस्कार आज शाम तक दिया जाएगा।
जमुना ने तेलुगु, तमिल, कन्नड़ और हिंदी में लगभग 200 फिल्मों में अभिनय किया। अपने पीछे एक्ट्रेस अपने एक बेटा और एक बेटी को छोड़ गई हैं। जमुना जिनका असली नाम जाना बाई था, उन्होंने 16 साल की उम्र में गरिकापारी राजाराव द्वारा निर्देशित फिल्म ‘पुत्तिलु’ से साल 1953 में अपने अभिनय करियर की शुरुआत की थी। दक्षिण फिल्मों के एक्टर महेशा बाबू और आंध्र प्रदेश के सीएम जगन मोहन रेड्डी ने भी एक्ट्रेस के निधन पर शोक व्यक्त किया है।
अभिनेत्री ने 11 हिंदी फिल्मों में भी काम किया। उन्होंने सुनील दत्त और नूतन अभिनीत फिल्म ‘मिलन’ के लिए सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री का फिल्मफेयर पुरस्कार अपने नाम किया था। 30 अगस्त, 1936 को कर्नाटक के हम्पी में जन्मीं जमुना ने अपनी प्राथमिक शिक्षा गुंटूर जिले के दुग्गीराला में प्राप्त की। स्कूल के दिनों से ही वो एक मंच कलाकार थीं।
अभिनय के अलावा जमुना ने राजनीति में भी अपने हाथ आजमाए। तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी से प्रभावित होकर उन्होंने 1980 में कांग्रेस पार्टी ज्वाइन की और 1989 में राजमुंदरी से लोकसभा के लिए चुनी गईं, लेकिन 1991 में हार के बाद उन्होंने राजनीति छोड़ दी। बाद में वो भाजपा में शामिल हो गईं और 1990 के दशक के अंत में पार्टी के लिए प्रचार किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here