इजरायल-हमास युद्ध में तालिबान की एंट्री, 1000 से अधिक लड़ाके भेजे लेबनान

0
103


काबुल। इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की ओर से हिजबुल्ला के सर्वनाश का ऐलान करने के बाद पहली बार इजरायल-हमास युद्ध में तालिबान भी कूद गया है। बता दें कि तालिबान ने इस युद्ध में सीधे एंट्री मारी है। इजरायल के खिलाफ जंग में हिजबुल्ला का साथ देने के लिए तालिबान ने 1000 से अधिक लड़ाके लेबनान भेजे हैं। एक्स पर जारी हुए एक वीडियो में तालिबानी लड़ाके लेबनान की ओर जाते दिख रहे हैं। अफगानिस्तान से पहली खेप में 1000 से अधिक तालिबानी लड़ाके लेबनान भेजे गए हैं, जो युद्ध में हिजबुल्ला का साथ देंगे। ये लड़ाके अत्याधुनिक हथियारों और मिलिट्री वाहनों से लैस हैं। तालिबानी लड़ाके हाथ में हथियार लहराते हुए और मिलिट्री वाहन के साथ स्कैटिंग करते जाते हुए देखे जा सकते हैं। इजरायल-हमास युद्ध में तालिबान की सीधी एंट्री ने मध्य-पूर्व एशिया में जंग का दायरा और बढ़ने का खतरा बढ़ा दिया है। तालिबान का कहना है कि उसके पास अरबों मूल्य के अमेरिकी हथियार हैं, जिसे जो बाइडेन अफगानिस्तान में छोड़ गए हैं।
तालिबानी लड़ाके हिजबुल्ला का साथ देने उस वक्त रवाना हुए हैं, जब इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने गाजा में हमास के खात्मे के बाद हिजबुल्ला के खिलाफ बड़ी जंग का ऐलान किया है। नेतन्याहू ने कहा था कि गाजा में हमास के खिलाफ जंग लगभग खात्मे की ओर है, लेकिन पूरी तरह यह अभी खत्म नहीं हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here