मंथन शिविर में मंत्रियों ने भी दिए अपने सुझाव

0
61


धामी के साथ अधिकारियों ने किया योग

मसूरी। तीन दिवसीय मंथन शिविर के अंतिम दिन आज सुबह मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अधिकारियों के साथ योग किया। वहीं सूबे के मंत्रियों ने अपने विभागीय कार्यों का प्रेजेंटेशन देते हुए अपने—अपने विभाग की योजनाओं और जरूरतों के बारे में विस्तार से अपनी बात रखी गई।
मंथन शिविर का आज आखिरी दिन है। इस मंथन शिविर के जरिए शासन प्रशासन की कार्यश्ौली में बदलाव लाने और विकास की गति को तेज करने पर ही फोकस किया गया है। आज अंतिम दिन राज्य सरकार के सभी मंत्रियों ने अपनी बात और विचार रखें। सभी मंत्रियों के लिए 15—15 मिनट बोलने का समय तय किया गया था। शिविर में राज्य सरकार के सभी मंत्री मौजूद रहे। स्वास्थ्य एवं शिक्षा मंत्री धनसिंह रावत, रेखा आर्य, प्रेमचंद्र अग्रवाल तथा चंदन राम दास आदि सभी ने अपने विचार रखते हुए अधिकारियों द्वारा सकारात्मक सोच के साथ काम करने की अपेक्षा की गई।
इस मंथन शिविर से क्या कुछ निष्कर्ष निकल पाएगा यह अलग बात है लेकिन सरकार ने अधिकारियों के सामने अपनी इच्छा को जरूर रखा है जिसके तहत उत्तराखंड को 2025 तक एक उत्कृष्ट राज्य बनाने की बात कही जा रही है। इसके लिए विकास के लक्ष्य को तय कर दिया गया है। लेकिन इन लक्ष्यों को हासिल करने के लिए क्या करना है और कैसे करना है? इसका रोड मैप तैयार करने की जिम्मेदारी राज्य के अधिकारियों के कंधों पर डाली गई है। अब अधिकारियों द्वारा क्या सुझाव दिए जाते हैं और उन पर कितना काम और अमल हो पाता है इस पर निर्भर होगा भविष्य का विकास।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here