कुमाऊं के 3 जिलों में महा अलर्ट

0
252

दून सहित आठ जिलों में भारी बारिश होगी
क्रासर—नैनीताल, चंपावत व उधमसिंह नगर में अतिवृष्टि संभव
15 जुलाई को दून सहित पूरे राज्य में तेज बारिश

देहरादून। उत्तराखंड में आसमानी आफत का कहर अभी थमता नहीं दिख रहा है मौसम विभाग द्वारा कुमाऊं मंडल के 3 जिलों में आगामी 24 घंटों में भारी से भी भारी बारिश होने की संभावना जताते हुए लोगों से घरों में रहने की अपील की गई है जबकि प्रदेश की राजधानी देहरादून सहित आठ अन्य जिलों में अच्छी बारिश होने की संभावना जताई गई है।
15 जुलाई को जिन 3 जिलों में भारी बारिश होने की संभावना है उनमें नैनीताल, चंपावत और उधम सिंह नगर शामिल हैं जबकि अल्मोड़ा, पिथौरागढ़, पौड़ी, टिहरी, हरिद्वार और दून में भी अच्छी खासी बारिश होने की बात कही गई है। बीते 5 दिनों से राज्य में हो रही भारी बारिश के कारण भारी तबाही हुई है पहाड़ों में भूस्खलन के कारण आम आदमी का जीवन प्रभावित हुआ है। पहाड़ पर हो रही बारिश का अब मैदानी भागों में भी असर दिख रहा है।
रुड़की में आज बारिश के कारण मच्छी बाजार में एक दीवार गिरने से कई वाहन मलबे में दब गए। वहीं उत्तरकाशी में भूस्खलन की चपेट में आने से मोटरसाइकिल सवार दो कावड़ियों में से एक की मौत हो गई जबकि दूसरा घायल हो गया। उधर आज मौसम खुलने के बाद एक बार फिर केदारनाथ के लिए 3000 श्रद्धालुओं को रवाना किया गया है तथा यमुनोत्री व गंगोत्री राजमार्गों के खुलने की बात कही गई है। लेकिन इस राहत को क्षणिक राहत ही बताया जा रहा है क्योंकि कल फिर मौसम खराब रहने की संभावना है। इस बीच बदरीनाथ राजमार्ग अभी भी कई स्थानों पर बंद है तथा जोशीमठ के भटवाड़ी क्षेत्र में भू—धसाव की घटनाओं को लेकर लोग चिंतित हैं। अभी फिलहाल राज्य के लोगों को इस मानसूनी आपदा से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here