घाटी में आतंकवादियों ने हिंदू समुदाय के 4 लोगों की हत्या की

0
49

जम्मू। जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले के ऊपरी डांगरी में रविवार की शाम संदिग्ध आतंकवादियों ने हिंदू समुदाय के लोगों के तीन मकानों पर गोलीबारी की।अधिकारियों ने बताया कि घटना में चार लोग मारे गए हैं, जबकि दस अन्य घायल हो गए हैं। 2 आतंकियों को सुरक्षाबलों ने ढेर कर दिया है। जहां हमला हुआ है, वह घाटी की तुलना में बेहद शांत इलाका माना जाता है। बीते कई साल में यह पहला ऐसा हमला है।
जम्मू जोन के अवर पुलिस महानिदेशक मुकेश सिंह ने बताया कि पुलिस, सेना और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल ने संयुक्त रूप से विस्तृत घेराबंदी की है और तलाशी अभियान चलाया है, ताकि अपर डांगरी गांव में हुई गोलीबारी में लिप्त दो ‘हथियारबंद लोगों’ को पकड़ा जा सके।
मुकेश सिंह ने कहा कि गोलियां एक-दूसरे से करीब 50 मीटर की दूरी पर स्थित तीन मकानों पर चलाई गईं। दो आम नागरिकों की मौत हो गई, जबकि चार घायल हो गए। हालांकि, अधिकारियों ने बाद में बताया कि घायलों में से और दो लोगों की मौत होने से मरने वालों की संख्या बढ़कर चार हो गई है।
प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक शाम करीब सात बजे दो संदिग्ध आतंकवादी गांव के पास आए और तीनों मकानों पर अंधाधुंध गोलियां चलाने के बाद भाग गए। एक अधिकारी ने बताया, ‘गोलीबारी 10 मिनट के भीतर बंद हो गई। पहले उन्होंने अपर डांगरी में एक मकान पर गोलियां चलाई और फिर 25 मीटर दूर हटने के बाद वहां कई अन्य लोगों को गोलियां मारीं। उन्होंने गांव से भागने से पहले दूसरे मकान से करीब 25 मीटर की दूरी पर स्थित और एक मकान पर गोलियां चलाईं।
पुलिस के मुताबिक गोलीबारी में कुल 10 लोग घायल हुए जिनमें से तीन लोगों कोसरकारी मेडिकल कॉलेज, राजौरी के चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। वहीं हेलीकॉप्टर से तीन घायलों को जम्मू ले जाया जा रहा था, जिनमें एक की रास्ते में ही मौत हो गई अधिकारी ने बताया कि मृतकों की पहचान सतीश कुमार, दीपक कुमार, प्रीतम लाल और शिशुपाल के रूप में हुई है। उन्होंने बताया कि घायलों की पहचान पवन कुमार, रोहित पंडित, सरोज बाला, रिदम शर्मा और पवन कुमार के रूप में हुई है।
सरकारी मेडिकल कॉलेज, राजौरी के चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर महमूद ने गोलीबारी की घटना में चार लोगों के मरने की पुष्टि की है। डांगरी के सरपंच धीरज कुमार ने बताया कि शाम करीब सात बजे गोलियां चलने की आवाज सुनाई दी और बाद में आतंकवादियों द्वारा गोलियां चलाए जाने की सूचना मुझे फोन पर मिली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here