राष्ट्रीय खेल दिवस पर सीएम ने खिलाड़ियों को दी बड़ी सौगात

0
161

खिलाड़ियों की छात्रवृत्ति व भोजन भत्ता बढ़ाने का ऐलान

  • छात्रवृत्ति 2 हजार व भोजन भत्ता 480 रुपए दिया जाएगा
  • दून व पिथौरागढ़ में 250 बेड का छात्रावास बनाने की घोषणा
  • खिलाड़ियों को विकल्प रहित संकल्प के साथ काम करने की नसीहत

देहरादून। हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद की जयंती पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राजधानी दूून में आयोजित एक समारोह में मेजर ध्यानचंद की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की तथा राज्य के उद्दीयमान खिलाड़ियों को सम्मानित किया। इस अवसर पर उन्होंने राज्य के खिलाड़ियों के लिए मुख्यमंत्री खिलाड़ी प्रोत्साहन योजना शुरू करने की घोषणा करते हुए खिलाड़ियों को दी जाने वाली सुविधाओं को बढ़ाने का ऐलान किया।
मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि मेजर ध्यानचंद हमारे खिलाड़ियों के प्रेरणास्रोत है जिन्होंने उसे दौर में अपनी प्रतिभा का लोहा पूरी दुनिया को मनवाया था जब देश में आज के जैसी सुविधाएं भी नहीं थी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार तथा हमारी सरकार खिलाड़ियों को हर बेहतर सुविधा प्रदान करने का प्रयास कर रही है। राज्य में खेलों को प्रोत्साहन देने के लिए सरकार द्वारा खिलाड़ी उन्नयन योजना चलायी जा रही है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हम विकल्प रहित संकल्प के स्लोगन के साथ काम कर रहे हैं। उन्होंने खिलाड़ियों से कहा कि परिस्थितियां और स्थितियां चाहे जो भी रहे अगर आप अपने दृढ़ संकल्प में विकल्प को स्थान नहीं देंगे तो आपकी सफलता कोई नहीं रोक सकता। उन्होंने कहा कि हमारे आगे की योजना है कि हम राज्य के सभी 14 से 23 साल के खिलाड़ियों को 2 हजार रूपये प्रति माह छात्रवृत्ति प्रदान करेंगे तथा केंद्रीय मानक के अनुरूप खिलाड़ियों को भोजन भत्ता 250 रूपये प्रति दिन से बढ़कर 480 रुपए प्रतिदिन किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने रायपुर स्थित स्टेडियम में 200 बेड का छात्रावास व हरि सिंह थापा स्पोर्ट्स कॉलेज पिथौरागढ़ में 50 बेड का छात्रावास बनाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी तक हम अपने खिलाड़ियों को आवागमन के लिए जो साधारण व रेल सेवा प्रदान करते है उसे भी अब एसी बस तथा थर्ड एसी की सुविधा के रूप में दिया जाएगा। यहंा यह उल्लेखनीय है कि यह सुविधा राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं में प्रतिभा के लिए दी जाएगी। इस अवसर पर खेल मंत्री रेखा आर्य ने भी खिलाड़ियों और उनके अभिभावकों तथा प्रशिक्षकों को संबोधित किया।

खेल मंत्री श्रीमती रेखा आर्या ने कहा कि राज्य में खेलों को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार द्वारा लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। खेल को केन्द्र बिन्दु में रखते हुए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी द्वारा कार्य किये जा रहे हैं। अगले वर्ष उत्तराखण्ड राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी करेगा। नई खेल नीति में खिलाड़ियों के लिए हर संभव सुविधा उपलब्ध कराने के प्रयास किये गये हैं। खिलाड़ियों के नकद पुरस्कार में भी वृद्धि की गई है। इस अवसर पर विधायक खजानदास, मेयर श्री सुनील उनियाल गामा, विशेष प्रमुख सचिव खेल अभिनव कुमार, खेल निदेशक जितेन्द्र कुमार सोनकर उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here