तुर्की में आया 7.8 तीव्रता का भूकंप, 50 से ज्यादा लोगों की मौत

0
303

नई दिल्ली। दक्षिण-पूर्वी तुर्की में आए 7.8 तीव्रता के भूकंप ने जमकर तबाही मचाई है। अब तक 50 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। साथ ही कई इमारतों को भी नुकसान पहुंचा है। वहीं, सीरिया में भी भूंकप से भयंकर तबाही मची है। यहां अब तक 42 लोगों के मारे जाने की खबर है। दोनों ही देशों में भारी संख्या में इमारतों को नुकसान पहुंचा है। भूकंप से मरने वालों की संख्या और बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। गवर्नर एर्दिन्क यिलमाज़ ने कहा कि इलाके में 34 इमारतें नष्ट हो गईं। बता दें कि भूकंप स्थानीय समयानुसार सुबह 04:17 बजे आया था। सरकार की आपदा प्रबंधन एजेंसी के मुताबिक, भूकंप की तीव्रता 7.4 थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, लेबनान, सीरिया और साइप्रस में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए वीडियो और फोटोज में तुर्की के दक्षिण-पूर्व में कई शहरों में नष्ट हुई इमारतों को दिखाया गया है। बता दें कि तुर्की दुनिया के सबसे सक्रिय भूकंप क्षेत्रों में से एक है। सीरिया में अलेप्पो और हमा शहर से नुकसान की खबरें आई हैं। तुर्की से लगे सीरिया में भी कई इमारतें गिरी हैं। दमिश्क में भी भूकंप के झटकों के बाद लोग सड़कों पर आ गए। लेबनान में करीब 40 सेकेंड तक भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। बता दें कि 1999 में भी तुर्की में 7.4 तीव्रता का भूकंप आया था। भूकंप के बाद तुर्की का ड्यूज इलाका काफी प्रभावित हुआ था। इसके अलावा इस्तांबुल में भी भारी तबाही मची थी। इस्तांबुल में लगभग 1,000 सहित 17,000 से अधिक लोग मारे गए थे। जनवरी 2020 में इलाज़िग में 6.8 तीव्रता का भूकंप आया था, जिसमें 40 से अधिक लोग मारे गए थे। 2020 में ही अक्टूबर में भी एजियन सागर में 7.0 तीव्रता का भूकंप आया, जिसमें 114 लोग मारे गए और 1,000 से अधिक घायल हो गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here