रूद्रप्रयाग में मारा गया आदमखोर गुलदार

0
58

रूद्रप्रयाग/देहरादून। अगस्त्यमुनि ब्लाक के सिल्ला—ब्राह्मणगांव स्थित जाबर तोक में शनिवार रात डेढ़ वर्षीय बच्ची को निवाला बनाने व झटगड़ गांव में एक अन्य महिला को घायल करने वाले आदमखोर गुलदार को वन विभाग के शूटरों द्वारा देर रात गोली मार दी गयी थी, जिसने आज सुबह दम तोड़ दिया है। बताया जा रहा है कि घायल गुलदार द्वारा शूटरों पर भी हमला करने के प्रयास किये गये थे।
बता दें कि शनिवार रात करीब साढ़े आठ बजे सिल्ला ब्राहमणगांव के जाबर तोक निवासी प्रमोद कुमार की डेढ़ वर्षीय बच्ची जो आंगन में खेल रही थी, उसे गुलदार उठाकर ले गया। मामले की सूचना वन विभाग को मिली तो उन्होने बच्ची की तलाश शुरू कर दी। हांलाकि वन विभाग द्वारा उक्त गुलदार को गोली मारने के आदेश जारी कर दिये गये थे। जिसके बाद शिकारी दल मौके पर तैनात हो गया और उसने आदमखोर गुलदार की तलाश शुरू कर दी। रविवार को घटना के बाद से प्रभावित क्षेत्र में शिकारी जॉय हुकील, अजहर खान और जहीर बख्सी ने बंदूक के साथ पोजीशन ली, और देर रात को आतंक का पर्याय बन चुके गुलदार को गोली मार दी। गुलदार को गोली लगने के बाद वह घायल हो गया, जिसके बाद उसने वन विभाग की टीम पर भी हमला करने की नाकाम कोशिश की। बताया जा रहा है कि आज सुबह उक्त घायल गुलदार ने दम तोड़ दिया। गुलदार को शिकारियों द्वारा मारे जाने के बाद ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है। वही स्थानीय लोगों ने तुरन्त कार्यवाही के लिए केदारनाथ विधायक मनोज रावत व वन विभाग तथा शिकारियों का धन्यवाद दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here