तीसरी संभावित लहर को देखते हुए लंबित नियुक्ति प्रक्रिया में तेजी लाएंः उप्रेती

0
260

देहरादून। गुरूवार को मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय देहरादून में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत संचालित कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी।
बैठक में वित्तीय वर्ष 2021—22 की प्रथम तिमाही में कार्यक्रमों के क्रियान्वयन की विस्तृत समीक्षा की गयी। बैठक में मातृत्व स्वास्थ्य, शिशु स्वास्थ्य, नियमित टीकाकरण, किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम, बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम, आशा कार्यक्रम, संस्थागत प्रसव, एएनएसी, तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम, परिवार नियोजन, पीसी—पीएनडीटी, टीबी नियंत्रण कार्यक्रम आदि की समीक्षा की गयी और सुधारात्मक सुझाव दिए गए।
बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. मनोज उप्रेती ने निर्देश देते हुए कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन देहरादून के अंतर्गत संचालित कार्यक्रम समयबद्ध एवं लक्ष्य आधारित हैं। इसलिए राष्ट्रीय कार्यक्रमों का क्रियान्वयन प्राथमिकता के आधार पर किया जाना आवश्यक है। किसी भी परिस्थिति में जन स्वास्थ्य कार्यक्रमों के संचालन में लापरवाही को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
उन्होंने जिला कार्यक्रम प्रबंधक को निर्देश दिए कि कार्मिकों के वार्षिक अनुबन्ध का कार्य अविलम्ब पूरा किया जाए। कोरोना की तीसरी संभावित लहर को दृष्टिगत रखते हुए लंबित नियुत्तिQ प्रक्रिया में तेजी लाएं। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, एनएचएम डॉ. दिनेश चौहान ने कहा कि जिन ब्लॉकों में स्वास्थ्य सूचकांक एवं वार्षिक लक्ष्यों की प्राप्ति में प्रगति धीमी है उनसे स्पष्टीकरण मांगा जाएगा। प्रथम तिमाही में जिन कार्यक्रमों के लक्ष्य पूरे नहीं हो पाए हैं उन्हें प्राथमिकता के आधार पर दूसरी तिमाही में अनिवार्य रूप से पूरा कर लिया जाए।
डॉ चौहान ने कार्मिकों से संबंधी प्रकरण की धीमी गति पर नाराजगी जताते हुए जिला लेखा प्रबंधक को निर्देश दिये कि कार्मिकों का लॉयल्टी बोनस प्राथमिकता के आधार पर निर्गत करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कार्मिकों का मासिक मानदेय 1 तारीख को अनिवार्यतः निर्गत करना सुनिश्चित किया जाय तथा कर्मियों के ईपीएफ प्रकरण पर कार्यवाही में तेजी लाएं व इसका निस्तारण करें।
बैठक में जिला कार्यक्रम प्रबंधक लक्ष्मण सिंह रावत, जिला कार्यक्रम अधिकारी किशोर स्वास्थ्य अनूप चौहान, जिला कंसल्टेंट क्वालिटी अश्योरेंस डॉ. अमिदत कुमार, जिला लेखा प्रबंधक विवके गुसाइंर्, जिला डाटा प्रबंधक, बिमल मौर्य, जिला आई.ई.सी समन्वयक पूजन नेगी, जिला समन्वयक पीएनडीटी ममता बहुगुणा, जिला सलाहकार तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम से अर्चना उनियाल, रेखा उनियाल, बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम से गीता शर्मा, आशा कार्यक्रम से दिनेश पाण्डेय, पंचम बिष्ट, प्रतिरक्षण से फील्ड सुपरवाईजर देवेन्द्र पंवार, टीबी नियंत्रण कार्यक्रम से अंकुर नेगी, दीपा नांरग आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here