पति ने पत्नी और उसके माता-पिता को मौत के घाट उतारा !

0
508


दिसपुर। असम के गोलाघाट से दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। जहां एक शख्स ने अपनी पत्नी और उसके माता-पिता को मौत के घाट उतार दिया। इस मामले के सामने आने के बाद से इलाके में दहशत का माहौल है। शख्स अपने नौ महीने के बच्चे को गोद में लेकर पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने इस घटना को लव जिहाद करार दिया है। उन्होंने कहा कि इस तरह की घटना को ही लव जिहाद कहते हैं। कोरोना लॉकडाउन के दौरान 25 वर्षीय नजीबुर रहमान और 24 साल की संघमित्रा के बीच फेसबुक पर दोस्ती हुई फिर दोनों को एक दूसरे से प्यार हो गया। फिर 2020 के अंत में दोनों ने कोर्ट में शादी कर ली। संघमित्रा के माता-पिता को इस शादी का जब पता चला तो वे नाराज हो गए। फिर उन्होंने अपनी बेटी पर ही चोरी का आरोप लगाकर मामला दर्ज करवा दिया। जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया और एक महीने से अधिक समय तक न्यायिक हिरासत में रखा गया। पुलिस ने कहा कि जमानत मिलने के बाद संघमित्रा अपने माता-पिता के घर लौट आई। यह जोड़ा जनवरी 2022 में फिर से भाग गया, इस बार चेन्नई चला गया। अगस्त में जब वे गोलाघाट लौटे तो संघमित्रा गर्भवती थीं। संघमित्रा फिर अपने पति के घर रहने लगी और नवंबर 2022 में उनका एक बेटा हुआ। मार्च 2023 में, संघमित्रा ने नजीबुर पर उसे प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए अपने नवजात बेटे के साथ उसका घर छोड़ दिया और पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया और नजीबुर को गिरफ्तार कर लिया गया। 28 दिनों के बाद उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया। वहीं दूसरी ओर, संघमित्रा अपने माता-पिता के घर पर रहने लगी। जेल से बाहर आने के बाद नजीबुर अपने बेटे से मिलना चाहते था, लेकिन संघमित्रा के परिवार ने उन्हें इसकी इजाजत नहीं दी। 29 अप्रैल को, नजीबुर के भाई ने संघमित्रा और उसके परिवार के सदस्यों पर नजीबुर पर हमला करने का आरोप लगाते हुए पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। वहीं पिछले सोमवार को दोनों पक्षों में किसी बात को लेकर बात और बिगड़ गई। बात ऐसी बिगड़ी कि नजीबुर आगबबूला हो गया और खौफनाक कदम उठाते हुए पत्नी और उसके माता-पिता की हत्या कर दी। फिर अपने 9 महीने के बच्चे को लेकर फरार हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here