भारी बारिश से बिगड़े हालात, सेना की लेंगे मददः धामी

0
303

दून व दिल्ली के बीच रेल यातायात बंद

हरिद्वार, लक्सर व रुड़की में बाढ़ के हालात

देहरादून। बीते 5 दिनों से उत्तराखंड में हो रही भारी बारिश से जहां जान माल का बड़ा नुकसान हो रहा है वहीं सड़क और रेल मार्ग के बाधित होने से आम आदमी की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही है। राज्य की तमाम प्रमुख सड़कों से लेकर संपर्क मार्गों तक के बंद होने से हजारों यात्री फंसे हुए हैं वही हरिद्वार लक्सर और रुड़की क्षेत्र में बाढ़ के हालात पैदा हो गए। लक्सर में रेलवे ट्रैक के जलमग्न होने से रेल यातायात ठप हो गया है तथा दिल्ली से देहरादून आने वाली सभी ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है। सीएम धामी आज हरिद्वार क्षेत्र का स्थलीय सर्वेक्षण कर रहे हैं।
उत्तराखंड में अभी इस मानसूनी आपदा का कहर थमता नहीं दिख रहा है राज्य में 19 जुलाई तक भारी बारिश के अलर्ट के बाद शासन—प्रशासन हालात की समीक्षा करने में जुटा हुआ है। वही आपदा प्रभावितों तक मदद कैसे पहुंचे इसके प्रयास तेज कर दिए गए हैं। राज्य की साढे़ 400 से अधिक सड़कें भूस्खलन व तेज बारिश के कारण तबाह हो चुकी हैं। दर्जनों पुल व पुलिया टूट गए हैं राज्य में इस आपदा के कारण अब तक 17 लोगों की मौत हो चुकी है वही 2 दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए तथा 27 घरों के जमींदोज होने की बात सामने आई है।
राज्य में फिलहाल चार धाम यात्रा को रोक दिया गया है लेकिन यात्रा कर लौट रहे हजारों यात्री व कावड़िए जगह—जगह मलबा आने से बंद हुई सड़कों के कारण यात्रा मार्गों पर फंसे हुए हैं। खास बात यह है कि कई क्षेत्रों में बिजली व पानी का संकट पैदा होने से लोगों की परेशानी और अधिक बढ़ गई है। केदारनाथ राजमार्ग पर गौरीकुंड के पास भूस्खलन से मार्ग बाधित हो गया वहीं पौड़ी सतपुली मार्ग पर भूस्खलन के कारण यातायात ठप हो गया है।
चमोली में पातालगंगा के पास हुए भारी भूस्खलन से क्षेत्र में धूल का गुबार देखा गया तथा 90 मीटर सड़क मलबे व बोल्डरों से दब गई है। उधर पौडी राजमार्ग पर बड़े भूस्खलन से मार्ग बाधित होने की खबर है।
राज्य में हो रही भारी बारिश के कारण हमैली, काला पिंडर, मंदाकिनी और गंगा—यमुना सहित तमाम नदियां उफान पर है जिसके कारण हरिद्वार रुड़की और लक्सर क्षेत्र में भारी बाढ़ का खतरा बना हुआ है। रुड़की के कई आवासीय क्षेत्रों में जलभराव हो चुका है वहीं हरिद्वार नगर व ग्रामीण क्षेत्रों में भारी तबाही की स्थिति बनी हुई है सोनाली नदी के उफान से भारी नुकसान हुआ है। लक्सर, खानपुर और रुड़की हरिद्वार का एक भूभाग बाढ़ की चपेट में आ गया है। लक्सर क्षेत्र में रेलवे ट्रैक पर हुए जलभराव के कारण रेलों की आवाजाही रोक दी गई है इससे पूर्व हरिद्वार में ट्रैक पर मलवा आने व पेड़ गिरने से रेल यातायात बाधित हुआ था। सीएम धामी का कहना है कि राज्य के हालात बिगड़े तो सेना की मदद ली जाएगी सीएम आज हरिद्वार के प्रभावित क्षेत्रों का स्थलीय निरीक्षण कर रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here