पुलिस पर पिस्टल तानने के आरोपी शाहरुख पठान ने जेल में हमले का आरोप लगाया

0
217


नई दिल्ली। दिल्ली दंगों के दौरान पुलिस पर पिस्टल तानने के आरोपी शाहरुख पठान ने जेल में हमले का आरोप लगाया है। उसने हाईकोर्ट से सुरक्षा की गुहार लगाई है। कहा कि जेल अधिकारियों ने उसके साथ मारपीट की है। दिल्ली हाईकोर्ट ने इस आरोपी की अर्जी पर सुनवाई करते हुए इसके लिए ट्रॉयल कोर्ट में अर्जी देने को कहा है। शाहरुख पठान ने साल 2020 में दिल्ली दंगों के दौरान दिल्ली पुलिस के एक हेड कांस्टेबल दीपक दहिया के ऊपर पिस्टल तान दिया था।
तिहाड़ जेल के अधिकारियों के खिलाफ मारपीट की शिकायत लेकर गुरुवार को हाईकोर्ट पहुंचे शाहरुख पठान के मामले की सुनवाई जस्टिस अमित शर्मा की सिंगल बेंच कोर्ट में हुई। आरोपी के वकील खालिद अख्तर ने कोर्ट को बताया कि इसी तरह की अर्जी पहले से ट्रॉयल कोर्ट में 28 फरवरी को दाखिल हुई थी। हालांकि वहां से कोई राहत नहीं मिली।
लेकिन वहां कोर्ट ने ना तो सीसीटीवी फुटेज सुरक्षित रखने के आदेश दिए और ना ही इस मामले में कोई ठोस निर्णय लिया था। यहां तक कि शाहरुख की सुरक्षा के लिए भी कोई आदेश जारी नहीं हुए। ऐसे में विवश होकर उसे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाना पड़ा है। मामले को सुनते हुए कोर्ट ने मौखिक तौर पर कहा कि ट्रॉयल कोर्ट को यह मामला सुनना चाहिए था। हाईकोर्ट ने आरोपी को कहा कि वह दोबारा वहां जाए, यदि कुछ नहीं हुआ तो देखा जाएगा। इसके बाद आरोपी ने हाईकोर्ट से अपनी अर्जी वापस ले ली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here