बादल फटने से सात व मन्दिर में भूस्खलन से नौ की मौत

0
262

हिमाचल। सोलन जिले में बादल फटने से जहंा सात लोगों की मौत हो गई और एक महिला गम्भीर रूप से घायल हुई है। वहीं दूसरी ओर शिमला के समरहिल में शिवालय पर पहाड़ टूटकर गिरने से दो दर्जन से अधिक लोग मलबे में दब गये जिनमें से नौ लोगों के शव बरामद किये जा चुके है।
पुलिस नियंत्रण कक्ष सोलन से मिली जानकारी के अनुसार, गांव जादोन डाकघर में बादल फटने से दो मकान और एक गोशाला बह गई। जडौण गांव में रती राम और इसके बेटे हरनाम के दो मकान भूस्खलन के कारण क्षतिग्रस्त हो गए। इसमें सात लोगों की मौत हो चुकी है। एसडीएम कंडाघाट सिद्धार्थ आचार्य ने बताया, मृतको में हरनाम (38), कमल किशोर (35), हेमलता (34), राहुल (14), नेहा (12), गोलू (8), रक्षा (12) शामिल हैं जबकि एक महिला कान्ता देवी की टांग टूट गई है, जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
वहीं दूसरी और शिमला के उपनगर समरहिल में आज सुबह एक शिवालय पर पहाड़ टूटकर गिर जाने से दो दर्जन से अधिक लोग मलबे में दब गये। सूचना मिलने पर आपदा प्रबन्धन टीमों द्वारा मौके पर पहुंच कर रेस्क्यू अभियान चलाया गया। जिसमें से नौ लोगों के शव बरामद किये जा चुके है। जबकि अन्य की तलाश जारी है। स्थानीय लोगों का कहना है कि श्रावण माह के हर सोमवार को शिवालय में भण्डारे का आयोजन किया जाता है। आज सुबह भी वहंा काफी लोग जमा थे तभी यह हादसा हो गया।
मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने सोलन के जादोन गांव में बादल फटने से सात लोगों की मृत्यु पर शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट कर कहा कि अधिकारियों को इस कठिन समय में प्रभावित परिवारों को हर संभव सहायता और समर्थन सुनिश्चित करने का निर्देश दिये गये है। वहीं सीएम सुखविंदर सिंह सुक्खू दोनो घटना स्थलों पर पहुंचे और उन्होंने कहा कि स्थानीय प्रशासन मलबे को हटाने के लिए काम कर रहा है। सबकी उचित मदद की जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here