अतिक्रमण पर बुलडोजर चलाने की तैयारी शुरू

0
593

महिलाओं व बच्चों सहित हजारों की भीड़, विरोध में सड़कों पर

अभी सिर्फ लाल निशान, ध्वस्तीकरण 8 जनवरी से
लोगों से सहयोग व शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील

हल्द्वानी। नैनीताल हाईकोर्ट के फैसले के बाद आज रेलवे पुलिस और राजस्व विभाग की टीम रेलवे की जमीन पर हुए अतिक्रमण को रेखांकित करने के लिए बनभूलपुरा की गफूर बस्ती पहुंची तो देखते ही देखते हजारों की संख्या में लोग भी इसका विरोध करने के लिए सड़कों पर उतर आए और सरकार तथा पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी।
हालांकि पुलिस प्रशासन तथा रेलवे पुलिस को इसका पहले से ही अंदेशा था इसलिए सुरक्षा के इंतजाम भी पुख्ता किए गए थे। भारी संख्या में पुलिस बल की मौजूदगी में अधिकारी दल बल के साथ मौके पर पहुंचे और अतिक्रमण का रेखांकन कार्य शुरू कर दिया गया। उल्लेखनीय है कि यहंा बनभूलपुरा क्षेत्र में रेलवे की 29 एकड़ भूमि पर अतिक्रमण कर अवैध बस्तियां बसा दी गई है इस क्षेत्र में लगभग 4365 आवासीय भवन बने हुए हैं। रेलवे की भूमि पर इस अतिक्रमण को लेकर अभी 2 सप्ताह पूर्व हाईकोर्ट द्वारा रेलवे विभाग और जिला प्रशासन को अतिक्रमण हटाने के आदेश दिए गए थे तथा जिनके भवन बने हैं उन्हें 1 सप्ताह का समय अपना सामान हटाने के लिए देने का नोटिस देने को कहा गया था।
जिला प्रशासन और रेलवे द्वारा इसकी तैयारी हाईकोर्ट के फैसले के बाद ही कर दी गई थी। जिलाधिकारी धीराज गर्ब्याल के निर्देश पर पुलिस ने क्षेत्रवासियों के 246 लाइसेंसी शस्त्र भी जमा करा लिए थे और अतिक्रमण क्षेत्र में बसे लोगों को नोटिस भी दिया जा चुका है। लेकिन वह फिर भी घर छोड़ने को तैयार नहीं है।
आज जब स्थानीय लोगों ने पुलिस प्रशासन का विरोध शुरू किया तो मौके पर मौजूद अधिकारियों ने बनभूलपुरा जाने वाली सभी रास्ते ब्लॉक कर दिए गए और लोगों की आवाजाही रोक दी गई तथा लाल निशान लगाने शुरू कर दिए। प्रशासन द्वारा अभी चिन्हीकरण किया जा रहा है तथा जिन भवनों को तोड़ा जाना है उन पर लाल निशान लगाए जा रहे हैं। मौके पर सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह, एसडीएम मनीष सिंह, एसपी सिटी हरबंस सिंह, एसएसपी जगदीश चंद्र तथा सीओ भूपेंद्र सैनी भारी पुलिस बल के साथ मौजूद हैं समाचार लिखे जाने तक हजारों क्षेत्रवासी भी सड़कों पर थे जिनमें महिलाएं व बच्चे भी शामिल हैं। अधिकारियों का कहना है कि हाईकोर्ट का आदेश है तो अतिक्रमण तो हटेगा ही इसके लिए सारी तैयारी कर ली गई है। 20 पोकलैंड और 20 जेसीबी का इंतजाम किया गया है। उन्होंने बताया कि अभी चिन्हीकरण हो रहा है ध्वस्तीकरण की कार्यवाही 8 जनवरी से होगी। उन्होंने लोगों से सहयोग व शांति बनाए रखने व कानून हाथ में न लेने की अपील की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here