पंवार के बाद राजकुमार भी हुए भाजपा के

0
216

देहरादून। उत्तराखंड में कांग्रेस के विधायक राजकुमार ने पार्टी का साथ छोड़ भारतीय जनता पार्टी का हाथ थाम लिया है। उत्तराखंड के पुरोला से कांग्रेस विधायक ने दिल्ली स्थित भाजपा कार्यालय में भाजपा के शीर्ष नेताओं की उपस्थिति में पार्टी सदस्यता ली। इस दौरान केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक मौजूद थे।राजकुमार के भाजपा में शामिल होने के कयास शनिवार से ही लगाए जा रहे ते। लेकिन माना जा रहा था किसी वजह से उनके भाजपा में शामिल होने कार्यक्रम को एक दिन के लिए टाला गया। रिपोर्ट की मानें तो राजकुमार ने भाजपा शीर्ष नेतृत्व के सामने शर्त रखी थी कि उन्हें देहरादून से पार्टी टिकट देगी। राजकुमार की शर्त की वजह से उनके भाजपा में शामिल होने के कार्यक्रम में देरी हुई। राजकुमार से पहले प्रीतम सिंह पंवार भी भाजपा में शामिल हो चुके हैं। राजकुमार के पिता पतिदास ने उत्तराखंड के उत्तरकाशी से 1985 में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा था लेकिन वह चुनाव हार गए थे। राजकुमार छात्र राजनीति में सक्रिय नहीं थे। वर्ष 2007 में वह सहसपुर सीट से भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़े थे। उस वक्त यह सीट आरक्षित थी। लेकिन सीट सामान्य होने के बाद 2012 में वह पुरोला सीट से निर्दलीय उम्मीदवार थे। हालांकि इस चुनाव उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। भाजपा उम्मीदवार मालचंद ने उन्हें मात दी थी। लेकिन 2017 में राजकुमार ने पुरोला से कांग्रेस टिकट पर चुनाव लड़ा और इस बार उन्होंने चुनाव में जीत दर्ज की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here