अस्पताल में हिंदू बच्चे का खतना करने का आरोप, उपमुख्यमंत्री ने दिए जांच के आदेश

0
215

बरेली। एम खान अस्पताल में हिंदू बच्चे का खतना करने का आरोप लगा तो प्रकरण लखनऊ तक पहुंच गया। उपमुख्यमंत्री एवं स्वास्थ्य मंत्री ब्रजेश पाठक ने सीएमओ डा. बलवीर सिंह को फोन कर 24 घंटे में जांच के आदेश दिए। उपमुख्यमंत्री के आदेश के बाद आनन-फानन एसीएमओ डा. भानू प्रकाश की अध्यक्षता में चार सदस्यीय टीम बनी, जोकि शाम छह बजे अस्पताल पहुंची। ऑपरेशन करने वाले डा. जावेद, वार्ड स्टाफ के बयान दर्ज किए।शुक्रवार शाम को स्टेडियम रोड स्थित एम खान अस्पताल में इस मामले में हंगामा हुआ था। संजयनगर निवासी युवक का कहना था कि उनके ढाई वर्षीय बेटे की जीभ निचले हिस्से से जुड़ी होने के कारण ठीक से बोल नहीं पाता। 18 जून को उसे एम खान अस्पताल में दिखाया तो डॉक्टर ने सात हजार रुपये खर्च से छोटे ऑपरेशन की बात कही। शुक्रवार को दोबारा अस्पताल पहुंचकर वहां कार्यरत रिश्तेदार से पैरवी कराई तो दो हजार रुपये कम कर पांच हजार जमा करा लिए गए। स्टाफ ने अंग्रेजी में कई लाइनें लिखी एक फाइल पर हस्ताक्षर कराए। बच्चे के ताऊ के अनुसार, हस्ताक्षर करते समय मैंने टोका था कि कम पढ़ा होने से अंग्रेजी नहीं समझ सकता। इस पर डॉक्टर ने कहा कि कोई खास बात नहीं है, हस्ताक्षर कर दो। कुछ देर बाद स्टाफ बच्चे का ऑपरेशन कर दोबारा वार्ड में लिटा गया। उसे गर्मी लगने पर कपड़े हटाए तो देखा कि मूत्रमार्ग पर पट्टी बंधी है। उन्होंने षड्यंत्र कर खतना करने का आरोप लगाया। हंगामा होने पर डॉक्टर एम खान का कहना था कि बच्चे के मूत्रमार्ग में बार-बार संक्रमण हो रहा था। यही बीमारी बताकर उसे भर्ती किया गया था। उसके स्वजन की सहमति से मूत्रमार्ग की कुछ त्वचा काटी गई। इसी उपचार की फाइल बनी है। जीभ के ऑपरेशन की बात तय नहीं हुई थी। बच्चे के पिता ने बारादरी थाने में तहरीर देकर कहा था कि एम खान अस्पताल में षड्यंत्र रचकर घटना की गई। डा. जावेद पर जानबूझकर खतना करने का आरोप लगाया। इत्तेहाद ए मिल्लत (आईएमसी) ने डा. जावेद के पक्ष में कहा कि हिंदू संगठन इस प्रकरण को तूल दे रहे, ट्वीट किए जा रहे हैं। प्रवक्ता डा. नफीस खान ने कहा कि मूत्रमार्ग की त्वचा हटाने से कोई मुसलमान नहीं हो जाता। बच्चे की बीमारी के कारण ऐसा किया गया। डॉक्टर ने स्वजन से सहमति भी ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here