भाजपा अब मजार शरणम गच्छामिः हरीश

0
194

देश में बढ़ रही है असहिष्णुता
24 करोड़ गरीब भाजपा की देन

देहरादून/उधमसिंहनगर। भाजपा सरकार और मुख्यमंत्री धामी के मजार जिहाद के खिलाफ चलाए जाने वाले अभियान को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि भ्रष्टाचार, महंगाई और कानून व्यवस्था के बड़े मुद्दों से जनता का ध्यान भटकाने के लिए प्रदेश भाजपा मजार शरणम गच्छामि, मजार शरणम गच्छामि का राग अलाप रही है।
उन्होंने कहा कि आज देश और प्रदेश भर में असहिष्णुता अपने चरम पर है। सांप्रदायिक हिंसा और तनाव का माहौल है अभी हाल में प्रकाशित कुछ अध्ययनों की रिपोर्ट में असहिष्णु राष्ट्रों की सूची में भारत का नाम भी शामिल हो गया है जबकि इस सूची में विश्व के चंद गिनती के ही देश शामिल है। उन्होंने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि यह भाजपा शासन की उपलब्धियां है। उन्होंने प्रदेश की भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उसके पास कुछ कहने के लिए नहीं है लोगों का ध्यान मुद्दों से हटाने के लिए भाजपा मजार शरणम गच्छामि, मजार शरणम गच्छामि रट रही है। उसकी पूरी कोशिश है कि कैसे वोटों का धु्रवीकरण किया जाए।
पूर्व मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि जिस राज्य में सबसे अच्छी और सबसे सस्ती बिजली उपलब्ध होती थी वहां अब सबसे घटिया और महंगी बिजली मिल रही है। अंधाधुंध बिजली कटौती से लोग परेशान हैं। पूर्व सीएम ने राज्य की सड़कों की स्थिति के बारे में कहा कि शायद इससे अधिक बेहाल स्थिति में सड़कें कभी नहीं देखी होंगी। आज तो यह समझना भी मुश्किल हो गया है की सड़कों में गड्ढे हैं या गड्ढों में सड़के हैं। उन्होंने कहा कि आज आम आदमी की जो समस्याएं हैं उन पर कोई सरकार और नेता बात करने को तैयार नहीं है। देश में 37 करोड़ लोग गरीबी की रेखा से नीचे थे लेकिन भाजपा के शासनकाल में 24 करोड़ वह लोग भी गरीबी की रेखा से नीचे चले गए जो इससे बाहर आ चुके थे। आज देश की आधी आबादी गरीबी में जीने को मजबूर है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने अपने शासनकाल में क्या दिया है जनता जान चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here