भाजपा ने जारी किया संकल्प पत्र, किसानों पर मेहबान दिखी भाजपा

0
61

नई दिल्ली। भाजपा ने 11 अप्रैल से शुरू होने जा रहे लोकसभा चुनाव के लिए सोमवार को अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, सुषमा स्वराज, राजनाथ सिंह व संसदीय बोर्ड के सदस्यों की उपस्थिति में भारतीय जनता पार्टी ने सकंल्प पत्र जारी किया। पार्टी ने अपने घोषणा पत्र को संकल्प पत्र का नाम दिया है।
संकल्प पत्र के बारे में समिति के अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि चुनाव में भाजपा 75 संकल्पों के साथ जनता के सामने जा रही है जिसे 2022 तक पूरा किया जायेगा। सकंल्प पत्र में किसानों की समस्याओं के बारे में फोकस करते हुए 2022 तक उनकी आय दो गुना करने की बात का उल्लेख किया है तथा किसान क्रेडिट कार्ड पर 5 साल तक कोई ब्याज नहीं लेने व एक लाख तक के कृषि लोन पर भी पांच साल तक ब्याज न लेने की घोषणा की गयी है। इसके साथ ही 60 साल के आयू के बाद किसानों को पेंशन देने का वायदा भी अपने सकंल्प पत्र में किया गया है। साथ ही किसानों के लिए राष्ट्रीय आयोग के गठन की बात भी कही गयी है।
भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में छोटे व्यापारियों व दुकानदारों को भी 60 साल की आयू के बाद पेंशन देने की बात कही है तथा अपने पुराने राम मंदिर के निर्माण के मुद्दे का उल्लेख भी इस घोषणा पत्र में करते हुए कहा कि राम मन्दिर निर्माण की संभावनाए भी तलाशी जायेगी। इस मुद्दे पर पीएम मोदी पहले ही अपना रूख स्पष्ट कर चुके है तथा उनका कहना है कि पहले न्यायालय उसके बाद सरकार को फैसला लेने का हक। वहीं सरकार पहले ही किसानों को 6 हजार रूपये सालाना सम्मान निधि देने की घोषणा कर चुकी है जिसका उल्लेख अब उसने अपने घोषणा—पत्र में भी किया है कहा गया है कि सकंल्प पत्र में किये गये सभी वायदे 2022 तक पूरा किया जायेगा।

LEAVE A REPLY