वायुसेना ने पीओके में जैश के ठिकानों पर बरसाए 1000 किलो बम, 300 आतंकी ढेर

0
106

नई दिल्ली। इंडियन एयरफोर्स (आईएएफ) के फाइटर जेट्स की तरफ से लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) पार करके जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर हमला करने की खबरों ने पाकिस्तान में खलबली मचा दी है। रात करीब ३.३० बजे इंडियन एयरफोर्स के मिराज २००० फाइटर जेट्स ने एलओसी पर स्थित आतंकी ठिकानों पर कई हमले किए और इन्हें पूरी तरह से नष्ट कर दिए हैं। जेट्स पूरी तरह से सुरक्षित अपनी सीमा में वापस आ गए हैं।
आईएएफ सूत्रों की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक एयरफोर्स के १२ मिराज जेट्स पीओके के बालाकोट तक दाखिल हुए और यहां पर उन्होंने जैश के ठिकानों पर हमला किया। करीब १००० किलोग्राम बम एलओसी के पार आतंकी कैंप्स पर गिराए गए हैं। बताया जा रहा है कि हमले में जैश के ठिकानें पूरी तरह से तबाह हो गए हैं। इस हमले में करीब ३०० आतंकियों के मारे जाने की खबरें हैं।
अगर यह बात सच साबित होती है तो फिर साल १९९९ में हुई कारगिल जंग के बाद पहला मौका है जब इंडियन एयरफोर्स के जेट्स ने एलओसी पार की है। अभी तक सरकार की ओर से इसकी कोई भी पुष्टि नहीं की गई है। लेकिन सूत्रों की ओर से दी मिराज जेट्स की ओर से लेजर गाइडेड बम पीओके स्थित कैंप्स पर गिराए गए हैं। इन जेट्स ने पुंछ से टेक ऑफ किया था। जेट्स के अलावा मिड एयर रिफ्यूलर बम, अर्ली वॉर्निंग जेट और ड्रोन्स भी इसका हिस्सा थे।
बालाकोट खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में स्थित है। इस इलाके में जैश का सबसे बड़ा ट्रेनिंग कैंप और ऐसे में इस एयर स्ट्राइक को बड़ी कामयाबी माना जा रहा है।
भारत ने साफ किया है कि इस जवाबी कार्रवाई में किसी आम पाकिस्तानी नागरिक को निशाना नहीं बनाया गया, जंगली इलाके में स्थित ठिकानों को बहुच ऊंचाई से निशाना बनाया गया। जिसमें अकेले आतंकवादी कैंप तबाह किए गए हैं।

LEAVE A REPLY