जहरीली शराब का कहर: मृतकों की संख्या 82 तक पहुंची

0
154

देहरादून। बीते कल रूड़की और सहारनपुर में जहरीली शराब के सेवन से 64 लोगों की मौत हो गयी थी तथा 98 लोगों को इलाज के लिए विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया था। बीती रात इलाज के दौरान 18 और लोगों की मौत के बाद अब यह आंकड़ा 64 से बढ़कर 82 हो गया है जबकि अभी 18 लोगों की हालत गम्भीर बनी हुई है। सहारनपुर पुलिस द्वारा इस मामले में अब तक 30 लोगों को हिरासत में लिया गया है। जिनसे पूछताछ की जा रही है।
भले ही प्रशासन स्तर पर इस मामले के सही तथ्यों को छिपाया जा रहा है लेकिन जहरीली शराब से सहारनपुर में अब तक 54 लोगों की मौत हो चुकी है वहीं रूड़की में 20 लोगों की तथा कुशीनगर में 8 लोगों की जान जहरीली शराब के सेवन से जा चुकी है। एसएसपी सहारनपुर द्वारा भले ही अभी तक 36 मौतों की पुष्टि की गयी है जबकि हरिद्वार प्रशासन द्वारा 18 लोगों की मौत की बात कही जा रही है। जबकि कुशीनगर में 8 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। शराब पीने से बीमार हुए अधिकाश्ंा लोगों का मेरठ मेडिकल कालेज में इलाज चल रहा है जहंा बीती रात 18 लोगों ने दम तोड़ दिया है। अभी एक दर्जन से अधिक लोगों की हालत गम्भीर बनी हुई है। जिससे यह मौतों का आंकड़ा और भी बढ़ सकता है।
उधर जहरीली शराब से मरने वालों का आज पोस्टमार्टम भी कराया जा रहा है। प्रशासन का कहना है कि अब तक 58 लोगों का पोस्टमार्टम किया जा चुका है उनका कहना है कि सभी मृतकों का विसरा जांच के लिए सुरक्षित रखा गया है तथा विसरे की जांच के बाद ही पता चल सकेगा कि उनकी मौत किस तरह के जहर से हुई है। इतने बड़े स्तर पर हुई मौतोें के कारण आधा दर्जन से अधिक गांवों में मातम पसरा हुआ है। स्थानीय लोगों में इन मौतों को लेकर भारी गुस्सा और गम का माहौल बना हुआ है तथा वह शासन प्रशासन को कोस रहे है उनका कहना है कि अगर पुलिस विभाग ने समय पर इस अवैध शराब के धंधे पर ध्यान दिया होता तो आज इतनी बड़ी संख्या में लोगों को अपनी जान से हाथ नहीं धोना पड़ता। जहंा एक ओर मृतकों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है वहीं अभी तक शराब पीकर बीमार हुए लोगों का अस्पतालों में आने का सिलसिला भी लगातार जारी है।

LEAVE A REPLY