बेरोजगारों ने किया विधानसभा कूच

0
24

देहरादून। उत्तराखण्ड बेरोजगार संगठन के बैनर तले आज हजारों की संख्या में बेरोजगारों ने राजधानी दून की सड़कों पर उतर कर सरकार के खिलाफ नारेबाजी और प्रदर्शन किया। विधानसभा कूच कर रहे इन बेरोजगार युवाओं को पुलिस द्वारा रिस्पना पुल पर बनाई गयी बैरीकेटिंग पर रोक दिया गया।
राज्य में बढ़ती बेरोजगारी से परेशान सूबे के युवा बेरोजगारों ने आज बड़ी तादात में एकत्रित होकर विधानसभा सत्र के पहले दिन विधानसभा कूच के जरिए सरकार का ध्यान अपनी समस्याओं की ओर आकर्षित करने की कोशिश की। आज सुबह बड़ी संख्या में शिक्षित यह बेरोजगार परेड ग्रांउड में जमा हुए जहंा से एक जुलूस की शक्ल में इन्होने विधानसभा के लिए कूच किया। हाथों में तख्तियंा लिये इन युवाओं का कहना है कि सरकार द्वारा चुनाव के समय इन युवाओं को रोजगार के बड़े बड़े वायदे किये गये थे लेकिन राज्य की युवा शक्ति को रोजगार देने के लिए सरकार कोई काम नहीं कर रही है।
सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए यह बेरोजगार युवा जब रिस्पना पुल पर पहुंचे तो यहंा बनी बैरिकेटिंग पर पुलिस द्वारा इन्हे रोक दिया गया। जहंा यह बेरोजगार सड़क पर ही धरने पर बैठ गये और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी व प्रदर्शन करने लगे। इन युवा बेरोजगारों का कहना है कि सरकार एक तरफ युवाओं को प्रदेश से पलायन रोकने तथा पहाड़ की जवानी और पहाड़ का पानी को अपने राज्य के लिए उपयोग करने की बात कहती है। वहीं दूसरी तरफ राज्य के युवा बेरोजगार मारे मारे फिर रहे है उनकी बात को कोई सुनने को तैयार नहीं है। युवाओं का कहना है कि सरकार की कौशल विकास योजना का लाभ भी युवाओं को नहीं मिल पा रहा है। उधर फीस वृद्धि का लम्बे समय से विरोध कर रहे आयुर्वेद कालेज के छात्रों द्वारा भी विधानसभा कूच कर सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया गया। इन छात्रों की मांग है कि उनकी फीस मेंं की गयी वृद्धि को तत्काल प्रभाव से वापस लिया जाये।ं

LEAVE A REPLY