निकाय चुनावों में जवलन्त मुद्दों के प्रति हो रही है उदासीनताः थपलियाल

0
22

संवाददाता
देहरादून। नगर निकाय चुनावों मेंं राज्य के ज्वलन्त मुद्दों के प्रति उदासीनता दिखायी दे रही है। चुनाव प्रचार में प्रदेश के अहम सरोकारों के स्थान पर दोषारोपण मात्र ही हो रहा है। जबकि मुद्दों के प्रति सजगता प्रगतिशील समाज का घोतक होता है।
यह बात आज पै्रस क्लब में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान उत्तराखण्ड पूर्व सैनिक— अर्द्धसैनिक सयुंक्त संगठन के महासचिव पीसी थपलियाल ने कही। उन्होने कहा कि राज्य में उत्तरा पन्त बहुगुणा को न्याय दिलाने के स्थान पर उनका अपमान किया गया। राज्य सरकार ने निकट सम्बन्धियों के प्रति सुगम दुर्गम नीति में पक्षपातीय रवैये पर पर्दा डालने के लिए पीड़ित शिक्षिका को बलि का बकरा बनाया। बताया कि नगर निकायों से सम्बन्धित 74वें संशोधन पर भी उदासीनता बरती जा रही है। स्थायी राजधानी की विधिवत घोषणा 18 वर्षो बाद भी नहीं की जा सकी है व पूर्व सैनिकों की सरकार उपेक्षा कर रही है। उन्होने कहा कि संगठन जनता से आहवान करता है कि वह निकाय प्रत्याशियों को परखें और राज्य की समस्याओं के प्रति संवेदनशील योग्य प्रत्याशी को ही अपना समर्थन दें।

LEAVE A REPLY