खशोगी मामले में अमेरिका की पहली कार्रवाई, 21 सऊदी अफसरों का वीजा रद्द होगा

0
104

अमेरिकी अखबार वॉशिंगटन पोस्ट के पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या को लेकर अमेरिका ने पहली बार सऊदी अरब पर कार्रवाई की है। अमेरिका ने कहा है कि हत्या में शामिल रहे सऊदी अफसरों का अमेरिकी वीजा खत्म किया जाएगा। हमने 21 सऊदी अफसरों की पहचान की है जिनका वीजा खत्म किया जाएगा और फिर भविष्य में कभी जारी नहीं किया जाएगा। आगे और खुलासे होने पर हम अन्य कदम उठाएंगे। वीजा खत्म करने की कार्रवाई तुर्की राष्ट्रपति रेसेप तयिप एर्दोगान के दावे के बाद की गई। एर्दोगान ने कहा था कि खशोगी की हत्या की सऊदी दूतावास में ही की गई थी। इसकी साजिश 28 सितंबर को रची गई। खशोगी के शव के टुकड़े इस्तांबुल स्थित सऊदी राजदूत के घर में बगीचे से बरामद हुए थे। उनकी 2 अक्टूबर को इस्तांबुल स्थित सऊदी काउंसलेट में हत्या हुई थी। अमेरिकी विदेश विभाग ने कहा- हमने 21 सऊदी अफसरों की पहचान की है जिनका वीजा खत्म किया जाएगा और फिर भविष्य में कभी जारी नहीं किया जाएगा। विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा कि ये प्रतिबंध कोई अंतिम कार्रवाई नहीं है। आगे और खुलासे होने पर हम अन्य कदम उठाएंगे। एक जर्नलिस्ट के खिलाफ हिंसा को अमेरिका बर्दाश्त नहीं करेगा।
तुर्की के राष्ट्रपति का कहना है कि इस मर्डर को अंजाम देने के लिए सऊदी से 15 सदस्यों की एक टीम 2 अक्टूबर को ही इस्तांबुल आई थी। एर्दोगन ने इस मामले को ‘राजनीतिक हत्या’ करार दिया। उन्होंने कहा कि तुर्की की सिक्योरिटी सर्विस के पास इसके पर्याप्त सबूत भी हैं।

LEAVE A REPLY