बंगाल बंद के दौरान हुई हिंसा

0
8

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में भाजपा ने बुधवार को १२ घंटे के बंद का आह्वान किया। पार्टी ने इस्लामपुर घटना को लेकर बंद बुलाया है, जहां पुलिस के साथ झड़प में बीते सप्ताह २ छात्रों की मौत हो गई। इस बीच, कई जगह प्रदर्शनकारियों ने तोड़फोड़ मचाई। हिंसक घटनाओं से बचाव के मद्देनजर पश्चिम बंगाल में सरकारी बसों के ड्राइवर हेलमेट पहनकर बस चला रहे हैं। इस बीच, राज्य में तृणमूल कांग्रेस की अगुवाई वाली सरकार ने चेताया है कि इस दौरान किसी तरह से कानून का उल्लंघन हुआ तो ऐसा करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा। सरकार ने भाजपा की ओर से बुलाए गए बंद को तवज्जो न देते हुए बुधवार को सभी सरकारी कार्यालय, स्कूल और कॉलेज खुले रखे हैं। बंद के मद्देनजर अतिरिक्त सुरक्षा बलों की भी तैनाती की गई है। उत्तर दिनाजपुर के इस्लामपुर में गोली लगने से हुईं दो छात्रों की मौत के प्रतिवाद में भाजपा द्वारा आहूत बंगाल बंद का मिश्रित असर पूर्व व पश्चिम मेदिनीपुर जिले में देखा जा रहा है। पश्चिम मेदिनीपुर जिले के खड़गपुर में बंद को सफल बनाने के लिये भाजपा कार्यकर्ता सुबह ६ बजे से ही रोड पर उतर आयें हैं। भाजपा कार्यकर्ताओ ने शहर के मलंचा रोड पर दो स्थानों पर पथ अवरोध किया।

LEAVE A REPLY