मुखबिरी के शक में नक्सलियों ने दो ग्रामीणों को उतारा मौत के घाट

0
4

बस्तर/दंतेवाड़ा। फोर्स की तैनाती और लगातार नक्सलियों पर दबाव बनाने की रणनीति से बौखलाए नक्सलियों की कायराना हरकत एक बार फिर सामने आई है। दंतेवाड़ा जिले से अगवा दो ग्रामीणों को नक्सलियों ने गला रेतकर मौत के घाट उतार दिया। यहीं नहीं नक्सलियों ने बचेली के वार्ड क्रमांक ९ के निवासी हूंगा कर्मा और भीमा भीमा मुचाकी का शव भी सड़क पर फेंक दिया। इस घटना के बाद इलाके में दहशत का माहौल का है, सड़क पर अगवा ग्रामीणों का शव मिलते ही ग्रामीणों ने सूचना उनके परिजनों और पुलिस को दी। जानकारी के मुताबिक नक्सलियों ने उन्हें मुखबिरी के शक में अगवा किया था। फिर जनता अदालत लगाकर उन्हें मौत की सजा सुनाई गई। जिसके बाद नक्सलियों ने दोनों का गला रेंत दिया। आपको बता दें कि नक्सलियों ने इन दो ग्रामीणों का बीते बुधवार को घर से अगवा कर लिया था जिसके बाद इन दोनों ग्रामीणों की तलाश में पुलिस ने पूरे क्षेत्र में भारी मात्रा में पुलिस की तैनाती कर दी थी। आपको बता दें कि नक्सलियों ने दोनों ग्रामीणों पर मुखबिरी का आरोप लगाकर उनका अपहरण किया था। ये पूरा मामला बचेली थाना क्षेत्र का है। चुनाव के मद्देनजर इलाके में फोर्स की तैनाती लगातार बढ़ रही है, ऐसे में जवानों के साथ आए दिन मुठभेड़ की वारदातें सामने आ रही हैं, हाल ही में कई बड़े नक्सलियों ने भी हाथ छोड़कर मुख्यधारा का रास्ता अपना लिया है। जिसके चलते ग्रामीणों ने भी नक्सलियों की बात मानने से इंकार कर दिया है।

LEAVE A REPLY