सूबे के 31 शिक्षकों को टीचर्स अवार्ड

0
21

राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने किया सम्मानित
देहरादून। शिक्षक दिवस के अवसर पर राजभवन में नवनिर्वाचित राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने 31 शिक्षकों को गवर्नर्स टीचर्स अवॉर्ड से नवाजा। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने शिरकत की। शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 31 टीचरों को ये सम्मान मिला है।
बता दें, उत्तराखंड राज्यपाल ने 13 जिलों के प्राथमिक, माध्यमिक और 5 संस्कृत शिक्षकों को सम्मानित किया है- इस दौरान उन्होंने सबसे पहले सभी को शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं दीं- आयोजित कार्यक्रम में शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे भी मौजूद रहे।
इस दौरान शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने कहा कि ईश्वर, माता-पिता और शिक्षक के विषय में जितना कहा जाए कम है। प्रदेश में शिक्षक बहुत अच्छे हैं। इस बार का बोर्ड परीक्षाफल उन्हीं की मेहनत का नतीजा है। सचिव भूपेंद्र कौर औलऽ ने कहा कि बच्चे कच्ची मिटटी की तरह हैं। यह गुरु पर निर्भर करता है कि उसे क्या आकार दे। उन्होंने कहा कि शिक्षक अपने आचरण से उदाहरण प्रस्तुत करें।
सम्मानित किये जाने वाले शिक्षकों में राजेन्द्र सिंह बिष्ट, आलोक पांडेय, पुष्पा कंवासी, राजेन्द्र गडकोटी, मधु कुकशाल, पूनम शर्मा, महेश चंद्र जोशी, नवीन सिंह असवाल, राजीव कुमार कश्यप, सोवेंद्र सिंह, धर्मेंद्र सिंह, शशि नेगी के नाम शामिल हैं।
प्राथमिक शिक्षकों में दीपा आर्य, कमला परिहार, विक्रम सिंह झींकवान, रेऽा बोरा, अरविंद सिंह सोलंकी, अमरीश चौहान, ममता ध्यानी, कुमुद रावत, गिरीश चंद्र जोशी, रेऽा पुजारी, उषा त्रिवेदी, चंद्रकला शाह, किरण शर्मा के नाम शामिल हैं।
जिन संस्कृत के पांच शिक्षकों को सम्मानित किया गया है उनमें जगदीश सकलानी, डॉ नवीन जोशी, महेश चंद्र जोशी, हरीश चंद्र जोशी, ओम प्रकाश के नाम शामिल हैं।
शिक्षक दिवस पर प्रदेशभर के 31 शिक्षकों को गवर्नर्स अवार्ड से सम्मानित किया गया। इसमें बेसिक और माध्यमिक स्तर के तेरह तेरह शिक्षक शामिल हैं। जबकि पांच शिक्षक संस्कृत शिक्षा से हैं।
बता दें कि प्रदेश में प्रतिवर्ष माध्यमिक व प्राथमिक शिक्षा के राजकीय विद्यालयों के उत्कृष्ट शिक्षक-शिक्षिकाओं को गवर्नर्स अवार्ड से सम्मानित किया जाता है। शिक्षक दिवस पर राजभवन में आयोजित सम्मान समारोह में राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने इन्हें सम्मानित किया।

LEAVE A REPLY