सौतेली मां ने 9 साल की मासूम का कराया गैंगरेप व हत्या, आंख फोड़ी

0
8

जम्मू। जम्मू-कश्मीर में ९ साल की बच्ची के साथ गैंगरेप और हत्या की खौफनाक घटना सामने आई है। सौतेली मां और सौतेला भाई सहित ५ आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। २३ अगस्त से ही लड़की गायब थी। उरी के रहने वाली लड़की के पिता ने पुलिस में शिकायत दर्ज भी कराई थी। २ सितंबर तो लड़की की डिकम्पोज्ड बॉडी बारामूला के पास एक जंगल में मिली।
उरी के एसडीपीओ के नेतृत्व में एक स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम जांच के लिए बनाई गई है। बारामूला के एसपी इम्तियाह हुसैन मीर ने कहा है कि पूछताछ के दौरान दिल दहला देने वाला खौफनाक ब्योरा सामने आया है। जांच में पता चला है कि लंबे वक्त से आरोपी महिला का पति की दूसरी पत्नी और उनके बच्चे से शत्रुता थी। जांच के मुताबिक, बच्ची से पीछा छुड़ाने के लिए सौतेली मां एक दिन उसे लेकर जंगल पहुंच गई। १४ साल के सौतेले भाई ने अपने दोस्तों के साथ मां की मौजूदगी में गैंग रेप किया। इसके बाद मां ने बच्ची को मार दिया। एक आरोपी ने उसकी आंखें निकाल लीं। प्राइवेट पार्ट में एसिड भी डाला गया।
उरी में बच्ची के साथ हुई गैंगरेप की घटना पर गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने दुख जताते हुए कहा है कि यह बहुत ही दर्दनाक घटना है। ऐसी घटनाओं के लिए किसी को भी माफ नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि जो लोग दोषी हैं उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यह कोशिश की जाएगी कि आरोपियों को फांसी की सजा मिले। ऐसे लोगों को माफ नहीं किया जा सकता। यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने बच्चियों के खिलाफ होने वाले अपराधों को गंभीरता से लिया और इसके लिए नया कानून बनाया । १२ और १६ साल से कम उम्र की बच्चियों के साथ अपराध करने वाले दोषियों के लिए फांसी की सजा का प्रावधान आया है। ऐसे लोग बचेंगे नहीं, फांसी पर चढ़ेंगे।

LEAVE A REPLY