‘आप’ की जनजागृति सभा सम्पन्न

0
12

हमारे संवाददाता
देहरादून। आम आदमी पार्टी द्वारा आज आगामी नगर निकाय चुनावों के दृष्टिगत एक विशाल जिलास्तरीय जन-जागृति सभा का आयोजन स्थानीय हिन्दी भवन में किया गया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता आम आदमी पार्टी के उत्तराखंड प्रदेश प्रभारी राकेश कुमार सिन्हा ने की।
इसके पूर्व सिन्हा द्वारा कचहरी परिसर स्थित शहीद स्मारक पर जाकर मसूरी व खटीमा के शहीद आंदोलनकारियों को भावभीनी श्रृद्धांजलि अर्पित की गई।
इस अवसर पर ‘आप’ के प्रदेश प्रभारी राकेश सिन्हा ने अपने संबोधन में कहा कि आगामी निकाय चुनावों से उत्तराखंड की राजनीति में आम आदमी पार्टी के रूप में एक नयी ईमानदार व स्वच्छ राजनैतिक शत्तिफ का उदय होने जा रहा है। आम आदमी पार्टी की यह जन-जागृति सभा उत्तराखण्ड में 18 वर्षों से पीडि़त, शोषित व उपेक्षित जनता को भ्रष्टाचार के विरूद्ध लामबंद करने के उद्देश्य के साथ आयोजित की गई है। जिसके माध्यम से आप ने दिल्ली सरकार की तर्ज पर उत्तराखण्ड में हताश व निराश हो चुके अंतिम व्यत्ति तक शिक्षा, स्वास्थय, सड़क, बिजली, पानी जैसी मूतभूत आवश्यकताओं को पहुंचाने का संकल्प लिया है।
प्रदेश की राजनीति में आम आदमी पार्टी की दस्तक से भाजपा-कॉंग्रेस बौखलाई व घबराई हुयी हैं, क्योंकि यह स्पष्ट हो चुका है भाजपा, काँग्रेस से नही आम आदमी पार्टी से डर रही है, जिस गति से पार्टी का जनाधार राज्य मे दिन-प्रतिदिन बढ रहा है, इससे भ्रष्टाचारी राजनेताओं के मन में खखौफ पैदा नजर आ रहा है, आज दिल्ली से ज्यादा आम आदमी पार्टी की जरूरत उत्तराखण्ड राज्य को है, हम आम जनता को यह विश्वास दिलाते हैं कि आगामी निकाय चुनाव के परिणाम निगमों-पालिकाओं मे हो रहे भ्रष्टाचार पर पूर्ण विराम लगाने वाले हैं।
जन-जागृति सभा में विशेष रूप से आगामी निकाय चुनाव के दृष्टिगत पार्टी के कर्मठ नेताओं ने विभिन्न वार्डाे से बड़ी संख्या में अपने समर्थकों के साथ शीर्ष नेत्तृव के समक्ष टिकट माँगने हेतु अपनी दावेदारी भी पेश की। सभा में उपस्थित आप नेताओं के अनुसार यह जन-जागृति सभा संगठन निर्माण में अब तक किये गये कार्याे को धरातल पर उतारने व समग्र सभ्य समाज में पार्टी की आगामी निकाय चुनाव में मजबूत स्थिति का संदेश देने के लिये की गई है। पार्टी ने कहा कि आप के बढते जनाधार को देखकर काँग्रेस-भाजपा बौखलाई हुई है, ईमानदारी की यह लड़ाई दौलत और जूनून के बीच है, अब देना यह है कि देवभूमि की जनता किसका चयन करती है।

LEAVE A REPLY