नेगेटिव कैलरी फूड्स नहीं बढऩे देते वजन

0
8

हम में से ज्यादातर लोग कैलरी के बारे में जानते हैं। जिनको अपने बढ़ते वजन की फिक्र होती है, वह कैलरी की एक-एक मात्रा का खासा ध्यान रखते हैं। ऐसे में आपको पता चले की नेगेटिव कैलरी भी होती हैं, तो आपका रिएक्शन अजीब होगा। सुनने में अटपटा है लेकिन इस बारे में आपका जानना भी जरूरी है:
नेगेटिव कैलरी फूड वह खाद्य पदार्थ हैं, जिन्हें पचाने के लिए और कैलरीज की जरूरत पड़ती है। यह इस बात का संकेत है कि आप इस तरह का कोई भी फूड लें, लेकिन उससे आपका वजह नहीं बढ़ेगा। जब आप इन फूड्स को खा लेते हैं, तब आपकी बॉडी में भी कैलरी बर्न होना शुरू हो जाती है।
नेगेटिव कैलरी ज्यादातर पौधों से प्राप्त होने वाली चीजों में पाई जाती है और इनमें फाइबर और पानी की मात्रा अधिक होती है। फूलगोभी, सलाद, तरबूज, गाजर, ककड़ी, सेब, टमाटर और तोरईं में नेगेटिव कैलरी पाई जाती हैं। वजन घटाने के लिए इस तरह के खाद्य पदार्थ आपकी रस प्रक्रिया को बढ़ाते हैं क्योंकि उनमें फाइबर की मात्रा ज्यादा होती है। इनको पचाने का वक्त भी काफी लंबा होता है और इस प्रकार यह आपके मेटाबॉलिज़म (रस प्रक्रिया) को पुन: जीवित कर देते हैं।
हम जो कुछ भी खाते हैं, उनमें कहीं-न-कहीं कैलरी की मात्रा होती ही है। जिनमें सिर्फ कैलरी ही होती है, उनमें पोषक तत्व नहीं होते हैं। ऐसे में इस तरह के फूड का सेवन करने से कैलरी बॉडी में ही स्टोर होती जाती है और आपका वजन बढ़ता रहता है। जितने भी जंक फूड हैं वह इसी कैटिगरी में आते हैं। जिन खाद्य पदार्थों में फाइबर और पानी की मात्रा ज्यादा होती है, उनमे कैलरी की मात्रा कम पाई जाती है। ऐसे में आपको पाचन के लिए अधिक ऊर्जा और कैलरी की जरूरत पड़ती है।(आरएनएस)

LEAVE A REPLY