कर्मचारियों का अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार शुरू

0
14

90 से अधिक विभागों के हजारों कर्मचारी शामिल
मांगे नहीं मानने पर दी हड़ताल की चेतावनी
देहरादून। तेरह सूत्रीय मांगो को लेकर संयुक्त मोर्चा के बैनर तले राज्य के हजारों कर्मचारियों ने आखिरकार आज से अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार शुरू कर दिया है। कर्मचारियों ने चेतावनी दी है कि अगर सरकार ने अब भी उनकी मांगों पर गौर नही किया तो वह अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने को विवश होगें।
बीते दो महीनों से अपनी मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे इन कर्मचारियों का कहना है कि सरकार द्वारा उनकी अपेक्षा की जा रही है। उन्होनेंं सरकार को चेतावनी दी है कि यदि अभी भी उनकी मांगों को पूरा नही किया गया तो वह हड़ताल पर जाने को विवश होगें। इन कर्मचारियों की मांग है कि उनके पूरे सेवाकाल में तीन अनिवार्य उन्नतियां दी जाएं तथा समान कार्य के लिए समान वेतन दिया जाए तथा सभी कर्मचारियों के लिए यू हेल्प कार्ड की सुविधा प्रदान की जाए।
उत्तराखण्ड कार्मिक शिक्षक आउटसोर्स संयुक्त मोर्चा के संयोजक प्रहलाद सिंह व प्रवक्ता अरूण पांडेय का कहना कि शासन के साथ कई दौर की वार्ता के बाद इनकी मांगों का कोई समाधान नहीं हो सका है जिसके कारण विवश होकर उन्हें अब आंदोलन के तीसरे चरण में अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार का निर्णय लेना पडा है। उन्होनें कहा कि अब भी सरकार उनकी मांगों को नहीं मानेगी तो राज्य भर के 90 विभागों के कर्मचारी हड़ताल करने पर विवश होगें जिसकी पूरी जिम्मेदारी शासन की होगी। संयुक्त मोर्चा से संबद्व कृषि विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, राजस्व आबकारी, परिवहन निगम सहित तमाम विभागों के कर्मचारी आज बड़ी संख्या में परेड़ ग्राउंड में पहुंचे और कार्य बहिष्कार में भाग लिया। कर्मचाारियों के कार्य बहिष्कार के कारण तमाम सरकारी विभागों में आज कामकाज प्रभावित हुआ। इन कर्मचारियों की मांग है कि साथ में वेतन आयोग की सिफारिशों का लाभ उन तमाम विभागों को मिलना चााहिए जो अब तक इससे वंचित हैं।

LEAVE A REPLY