होटल में महिला के साथ देखे जानेे के मामले में मेजर गोगोई दोषी करार

0
11

जम्मू। श्रीनगर होटल कांड में भारतीय सेना के मेजर लीतुल गोगोई के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई होगी। कोर्ट ने उन्हें ड्यूटी के वक्त ऑपरेशनल एरिया से दूर होने का दोषी पाया है। इसके अलावा मेजर गोगोई को निर्देशों के खिलाफ जाकर स्थानीय नागरिक से मेल-मिलाप बढ़ाने का भी दोषी पाया गया है। आपको बता दें कि सेना की कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी की अनुशंसा के बाद मेजर गोगोई को कोर्ट मार्शल का सामना करना पड़ सकता है।
मेजर गोगोई उस समय सुर्खियों में आए थे जब पिछले वर्ष बडगाम में लोकसभा के उपचुनावों के लिए वोट डाले जा रहे थे। इस दौरान स्थानीय लोगों की भारी भीड़ ने सुरक्षाबलों को ोर लिया। तब मेजर गोगोई का एक वीडियो सामने आया। इस वीडियो में एक स्थानीय युवक सेना की जीप पर बंधा था। इस वीडियो के बाद काफी हंगामा हुआ और फिर सेना ने इस मामले में कोर्ट ऑफ इन्क्वॉयरी के आदेश दिया था। ५३ राष्ट्रीय राइफल्स के मेजर गोगोई को सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत की ओर से सम्मानित भी किया जा चुका है।
इंडियन एक्सप्रेस के सूत्रों की मानें तो मेजर गोगोई को दो आरोपों के तहत दोषी माना गया है- पहला कि वह एक ऑपरेशनल एरिया में एक्टिव सर्विस में होने के बाद भी वह अपने ड्यूटी प्लेस से दूर थे। दूसरा है कि उन्होंने एक स्थानीय महिला के साथ दोस्ती करके सेना की नीति का उल्लंान किया है। उल्लेखनीय है कि २३ मई को मेजर गोगोई को एक स्थानीय महिला और एक शख्स समीर अहमद के साथ पुलिस ने हिरासत में लिया था।

LEAVE A REPLY