ग्यारह साल बाद आया यूपी में हुए सीरियल बम धमाकों पर फैसला, 2 आरोपी दोषी करार

0
8

लखनऊ। ११ साल पहले यूपी में हुए बम धमाकों को लेकर लखनऊ सिविल कोर्ट ने २ आरोपियों को दोषी करार दिया है। २३ नवंबर २००७ को राजधानी लखनऊ के साथ फैजाबाद, वाराणसी में सीरियल बम धमाकों से यूपी दहल गया था। इन सीरियल ब्लास्ट में बहुत से लोगों ने अपनी जान गंवाई थी। धमाके में कुल १५ लोगों की मौत और ६० से ज्यादा लोगों के घायल होने की बात सूचना सामने आई थी। हाल ही में धमाकों के मास्टरमांइड को पकड़ लिया गया है। यूपी बम ब्लास्ट मामले में आतंकवादी संगठन हूजी, इंडियन मुजाहिदीन, आजमगढ़ के निवासी तारिक काजमी और कश्मीर निवासी मो। अख्तर को दोषी ठहराया गया है। जानकारी के मुताबिक इन गुनहगारों को लखनऊ सिविल कोर्ट की विशेष न्यायाधीश बबिता रानी ने जेल में लगी अदालत के दौरान दोषी ठहराया। साथ ही यह एलान भी किया कि दोषियों को आगामी २७ अगस्त को सजा सुनाई जाएगी। साथ ही बताया जा रहा है इन आतंकियों के खिलाफ पांच चार्जशीट दायर की गई है।
डीजीपी ओपी सिंह ने इस केस के बारे में बयान देते हुए कहा है कि आरोपियों का पकड़ा जाना बहुत ही संतोषजनक बात है। साथ ही इसके लिए अपर पुलिस अधीक्षक राजेश श्रीवास्तव और प्रभावी पैरवी के लिए संयुक्त निदेशक अभियोजन सुभाष चंद्र सिंह और पैरोकार रमाकांत मिश्रा को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित करने की बात कही है।

LEAVE A REPLY